महिला स्वास्थ्य : वेट लिफ्टिंग सिर्फ पुरुषों के लिए ही नहीं बल्कि महिलाओं के लिए भी है फायदेमंद, जानिए इसके चार मुख्य फायदे

कुछ महिलाओं ( महिलाओं ) का मानना ​​है कि उन्हें वेटलिफ्टिंग ( वेट लिफ्टिंग ) और अधिक वजन ( वेट) नहीं करना चाहिए) उनके शरीर को कुछ नुकसान हो सकता है। यही कारण है कि जो महिलाएं रोजाना जिम जाती हैं या वर्कआउट करती हैं, उनमें भी वेटलिफ्टिंग करने वाली महिलाएं बहुत कम होती हैं। अन्य व्यायामों की तरह, भारोत्तोलन के भी अपने फायदे हैं और यह न केवल पुरुषों के लिए, बल्कि महिलाओं के लिए भी उपलब्ध है। एक शोध के अनुसार महिलाओं के शरीर में पुरुषों की तुलना में अधिक चर्बी होती है और इसलिए उनके लिए भी व्यायाम बहुत जरूरी है। वजन घटाने के लिए वेट लिफ्टिंग बहुत जरूरी है और इसकी मदद से आप जितना चाहें उतना वजन कम कर सकते हैं। हालांकि, महिलाओं को अपने स्वास्थ्य, गर्भावस्था और मासिक धर्म को देखते हुए विशेषज्ञों से सलाह लेनी चाहिए कि वे कितना वजन उठा सकती हैं। आइए जानते हैं महिलाओं के लिए वेट लिफ्टिंग के 4 फायदे-

1. मोटापा कम करने के लिए वेट लिफ्टिंग

यदि आप वजन बढ़ाने और व्यायाम के बारे में चिंतित हैं और आहार से कोई फर्क नहीं पड़ रहा है, तो अपने व्यायाम दिनचर्या में भारोत्तोलन शामिल करें। वेट ट्रेनिंग से मसल्स मास बढ़ता है, जिससे शरीर को अधिक कैलोरी बर्न करने में मदद मिलती है। जैसा कि एक स्वास्थ्य पेशेवर ने सलाह दी है, आप आज से भारोत्तोलन शुरू कर सकते हैं।

2. मजबूत मांसपेशियां और हड्डियां

मजबूत मांसपेशियां और हड्डियां शरीर के लिए बहुत जरूरी हैं। मांसपेशियों या हड्डियों में कमजोरी से ही गिरने, फिसलने या अन्य दुर्घटनाओं का खतरा बढ़ जाता है। वेट लिफ्टिंग की मदद से मांसपेशियों और हड्डियों को मजबूत बनाया जा सकता है। आज की बिजी लाइफस्टाइल और खराब खान-पान की वजह से महिलाओं को खासतौर पर इसकी बहुत ज्यादा जरूरत होती है।

3. मानसिक समस्याओं को दूर करता है

तनाव और चिंता जैसी समस्याओं को दूर करने के लिए वेट लिफ्टिंग एक अच्छा विकल्प हो सकता है। स्ट्रेंथ ट्रेनिंग के दौरान एंडोर्फिन नामक एक विशेष हार्मोन निकलता है, जो मूड को बेहतर बनाता है और चिंता और तनाव जैसी समस्याओं से छुटकारा दिलाता है। इसके अलावा वेट लिफ्टिंग से सेल्फ कॉन्फिडेंस भी बढ़ता है, जिससे मानसिक परेशानियां दूर होती हैं।

4. रोगों को दूर रखता है

आजकल महिलाएं मधुमेह और ऑस्टियोपोरोसिस जैसी बीमारियों से पीड़ित देखी जाती हैं। कम उम्र में ही वे जीवनशैली से जुड़ी कई बीमारियों से पीड़ित होने लगते हैं। वेट लिफ्टिंग करने से शरीर में ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है और साथ ही डायबिटीज और ऑस्टियोपोरोसिस समेत कई बीमारियों का खतरा कम होता है।

क्या ध्यान रखें

हालांकि, वेट लिफ्टिंग महिलाओं के लिए पूरी तरह से सुरक्षित और फायदेमंद है। लेकिन इस दौरान कुछ बातों का ध्यान रखना बेहद जरूरी है।

Check Also

7-15

पीसीओडी और पीसीओएस का अचूक इलाज, कोई साइड इफेक्ट नहीं

पीसीओडी पीसीओएस हेल्थ टिप्स: पीसीओडी और पीसीओएस आज महिलाओं के जीवन की सबसे बड़ी बीमारियां हैं । इससे …