महिला अपने चार बच्चों के साथ यमुना में कूदी, गोताखोरों ने बचाई जान

प्रयागराज : कीडगंज थाना क्षेत्र स्थित नये यमुना पुल से मंगलवार शाम मध्य प्रदेश की एक महिला अपने चार बच्चों के साथ नदी में छलांग लगा दी। वारदात के समय नदी के किनारे मौजूद नाविकों ने किसी तरह बचा लिया और उपचार के लिए स्वरूपरानी नेहरू चिकित्सालय में भर्ती कराया है। आत्महत्या की वजह घरेलू कलह माना जा रहा है।

 

मध्य प्रदेश के रींवा जनपद के नई घड़ी थाना क्षेत्र के कटरा परसदा गांव निवासी रोहिणी तिवारी (40) पत्नी रामकृष्ण तिवारी कतिपय कारणों से क्षुब्ध होकर अपने चार बच्चों में सबसे बड़ी बेटी रूपाली 24 वर्ष, मनाली 22 वर्ष, श्रेया 17 वर्ष, बेटा अंश 14 वर्ष को लेकर मंगलवार सुबह घर से निकली और किसी वाहन से नैनी यमुनापुल पर उतरी। नैनी के नए यमुनापुल से आत्महत्या करने के लिए बच्चां के साथ यमुना में छलांग लगा दी। हालांकि इस दौरान वहां मौजूद गोताखोर एवं नाविकों ने यह देखते ही तत्काल सभी को बचाने के लिए दो नाव लेकर पहुंचे और सभी को नदी से जिन्दा बचाने में कामयाब हो गए।

 

सूचना पर पहुंची पुलिस ने सभी को तत्काल उपचार के लिए स्वरूपरानी नेहरू चिकित्सालय में भर्ती कराया। जहां महिला रोहिणी तिवारी और बड़ी बेटी की हालत नाजुक बतायी जा रही है। सभी का उपचार जारी है। कीडगंज थाना प्रभारी ने बताया कि महिला घर में हुए किसी विवाद की वजह से अपने बच्चों को लेकर मंगलवार सुबह निकली और नये पुल से आत्महत्या की कोशिश में यमुना में छलांग लगा दी। अब तक मिली जानकारी के मुताबिक आत्महत्या के पीछे घरेलू विवाद लग रहा है।

 

 

Check Also

बेटा बोला मां मर गई हो तो आऊं:अमरोहा में महिला रेलवे ट्रैक पर लेटी, जीआरपी की महिला सिपाही ने दौड़कर उठाया…फोन किया तो बेटा बोला- मां मर गई हो तो बताओ अगर जिंदा हैं तो कोई मतलब नहीं

  इन महिला सिपाहियों ने बचाई जान अमरोहा जिले में शुक्रवार को एक वृद्ध महिला …