भीलवाड़ा में डेढ़ लाख रुपये की रिश्वत लेते महिला पार्षद व पति गिरफ्तार

भीलवाड़ा, 22 जून (हि.स.)। भीलवाड़ा नगर परिषद के वार्ड 29 की महिला पार्षद लक्ष्मीदेवी सेन व उसके पति मुकेश सेन को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने बुधवार को डेढ़ लाख रुपये की रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया। रिश्वत की यह राशि पार्षद पति ने ठेकेदार से नाला निर्माण कार्य शुरू करने देने की एवज में ली। एसीबी की इस कार्रवाई के बाद नगर परिषद की निर्माण शाखा में हड़कंप मच गया है।

एसीबी इंस्पेक्टर नरसीलाल मीणा के अनुसार गुढा का खेड़ा बरसनी निवासी और महालक्ष्मी कंस्ट्रक्शन कंपनी के प्रोपराइटर ठेकेदार सुवालाल पुत्र मांगीलाल कुमावत ने एसीबी में शिकायत दी कि उसे वार्ड 29 काशीपुरी में विष्णु जलपान गृह के पास नाला निर्माण का ठेका मिला। इस निर्माण कार्य को शुरू करने देने की एवज में वहां की पार्षद लक्ष्मीदेवी सेन व उसके पति मुकेश सेन ने डेढ़ लाख रुपये की मांग कर रहे हैं । एसीबी ने इस शिकायत का सत्यापन करवाया। सत्यापन के बाद आज ठेकेदार सुवालाल कुमावत डेढ़ लाख रुपये (एक लाख 20 हजार का चेक और 30 हजार नकद) लेकर विष्णु जलपान गृह के पास पहुंचा जहां उससे पार्षद पति मुकेश सेन ने उक्त रिश्वत की राशि ली। इसी दौरान परिवादी का संकेत पाकर एसीबी की टीम मौके पर पहुंची और पार्षद पति को रिश्वत राशि सहित दबोच लिया।

जानकारी के अनुसार रिश्वत की डिमांड करने में शामिल पार्षद लक्ष्मीदेवी सेन को भी एसीबी ने गिरफ्तार कर लिया है।

एससीबी नगर परिषद की निर्माण शाखा से इस निर्माण कार्य से संबंधित पत्रावली को प्राप्त करने की कार्रवाई कर रही है जिससे वहां हड़कंप मच गया है। इस कार्रवाई से समूचे सिस्टम पर सवालिया निशान लग गया है। इस कार्य में निर्माण विभाग के अभियंताओं की भी भूमिका की भी जांच होने की संभावना है।

Check Also

एक मूर्ति लेकिन दो मंदिर! क्या है महाभारत काल के इस रहस्यमयी मंदिर का रहस्य?

मुंबई: भारत में कई तरह के मंदिर हैं. जिसकी अलग-अलग बनावट और विशेषताएं हैं। जो हमेशा लोगों को …