थोक मुद्रास्फीति जनवरी में बढ़कर तीन फीसदी पहुंची

मुंबई :  प्याज की कीमत बढ़ने के कारण थोक मूल्य सूचकांक पर आधारित भारत की वार्षिक मुद्रास्फीति की दर जनवरी में बढ़कर 3.1 प्रतिशत पर पहुंच गई है, जो इससे पहले दिसंबर में 2.01 प्रतिशत थी। यह जानकारी आधिकारिक आंकड़े में शुक्रवार को सामने आई है। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति, जनवरी 2020 में बढ़कर 3.1 प्रतिशत पर पहुंच गई है।

गौरतलब है कि खुदरा मुद्रास्फीति में तेजी सुस्त पड़ती अर्थव्यवस्था के लिए और भी मुश्किलें खड़ी करने वाली है और इसके चलते रिजर्व बैंक नीतिगत ब्याज दर में कटौती करने से रुक जाएगा। विशेषज्ञों ने चेताया था कि भारत के लिए एक ही समय पर आर्थिक गतिविधियों में ठहराव और उच्च मुद्रास्फीति की स्थिति‍ में फंसने का खतरा है।

Check Also

यहां इन्वेस्टमेंट करने पर 10 साल में ही मिल चुका है 4.5 गुना रिटर्न, जानें डिटेल्स

  कम समय में ज्यादा मुनाफा हासिल करने के लिए म्यूचुअल फंड्स में भी काफी …