क्या हुआ… खुद ऑर्डर डिलीवर करने को मजबूर Zomato के CEO, जानिए वजह

आतिथ्य उद्योग के लिए नए साल की पूर्व संध्या सबसे व्यस्त दिनों में से एक है। ऐसा ही कुछ फूड डिलीवरी ऐप Zomato के सीईओ दीपिंदर गोयल के साथ हुआ, जब उन्हें अपने ऑफिस के काम से ब्रेक लेकर खुद कुछ ऑर्डर देने पड़े।

गोयल ने देर शाम ट्वीट किया, “अभी मैं खुद कुछ ऑर्डर देने जा रहा हूं। करीब एक घंटे में वापस आऊंगा।” इसके साथ ही उन्होंने अपना ट्विटर बायो भी अपडेट किया। उन्होंने लिखा, “ज़ोमैटो और ब्लिंकिट में एक डिलीवरी बॉय।”

कुछ मिनट बाद उन्होंने एक और ट्वीट किया, “मेरी पहली डिलीवरी के बाद जोमैटो ऑफिस में वापस।” उन्होंने ट्वीट में एक तस्वीर भी पोस्ट की, जिसमें वह सिग्नेचर रेड ज़ोमैटो यूनिफॉर्म पहने और कुछ खाने के डिब्बे पकड़े हुए दिखाई दे रहे हैं।

ज़ोमैटो के संस्थापक और सीईओ ने पहले भी गुरुग्राम में ज़ोमैटो के मुख्य कार्यालय की झलक दी थी, जहाँ कई टीमें नए साल की पूर्व संध्या पर ऑर्डर में उछाल से निपटने के लिए कमर कस रही हैं। ऑफिस में सुबह से ही काफी भीड़ थी। पूरी टीम शुरुआती घंटों से ग्लूकोज और कैफीन पर निर्वाह कर रही है।

साल के 31 दिसंबर को 20 लाख से ज्यादा ऑर्डर डिलीवर किए गए। इस साल उन्होंने प्रति मिनट ऑर्डर का अपना ही रिकॉर्ड तोड़ा है। Zomato के ग्रॉसरी डिलीवरी बिजनेस ब्लिंकिट के ऑर्डर में भी उछाल देखा जा रहा है। ब्लिंकिट के सीईओ और सह-संस्थापक अलबिंदर ढींडसा ने खुलासा किया कि बेंगलुरु में एक ग्राहक ने लगभग रु। 29,000 रखा गया था, जो आज रात ऐप पर सबसे बड़ा ऑर्डर हो सकता है।

Check Also

RBI On Adani: वित्त मंत्री के बाद अब RBI ने अदानी ग्रुप विवाद पर दिया अहम बयान

RBI On Adani Group: अब भारत के सबसे बड़े बैंक रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया यानी आरबीआई …