विजीलैंस ब्यूरो ने फिटनेस सर्टिफिकेट जारी करने के एवज में 4,380 रुपये की रिश्वत लेते इंस्पेक्टर लीगल मेट्रोलॉजी को गिरफ्तार किया

Punjab News: पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान के निर्देश पर राज्य में भ्रष्टाचार को जड़ से खत्म करने के लिए चलाए जा रहे अभियान के तहत पंजाब विजीलैंस ब्यूरो ने आज खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग, बरनाला में इंस्पेक्टर लीगल मेट्रोलॉजी (माप और तौल) नियुक्त किया है। ) वीरेंद्रपाल शर्मा को 4,380 रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा है।

इस संबंध में जानकारी देते हुए विजीलैंस ब्यूरो के प्रवक्ता ने बताया कि लीगल मेट्रोलॉजी विभाग के लाइसेंसी रिपेयरर पंकज कुमार की शिकायत पर आरोपी वीरेंद्रपाल शर्मा को गिरफ्तार कर लिया गया है.

उन्होंने कहा कि शिकायतकर्ता ने सतर्कता ब्यूरो से संपर्क किया है और आरोप लगाया है कि उक्त इंस्पेक्टर लीगल मेट्रोलॉजी फिटनेस सर्टिफिकेट जारी करने के लिए प्रति धर्म कांडा रिश्वत की मांग कर रहा है। उन्होंने आगे कहा कि आरोपी दरोगा उससे 4900 रुपये रिश्वत पहले ही ले चुका था.

प्रवक्ता ने आगे बताया कि विजीलैंस ब्यूरो की टीम ने शिकायतकर्ता द्वारा दी गई जानकारी की पुष्टि करने के बाद जाल बिछाया और दो सरकारी गवाहों की हाजिऱी में शिकायतकर्ता से 4,380 रुपये की रिश्वत लेते हुए उपरोक्त आरोपी इंस्पेक्टर को रंगे हाथ पकड़ा. उन्होंने कहा कि आरोपियों के खिलाफ विजीलैंस ब्यूरो थाना पटियाला में भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी गयी है.

Check Also

फिल्म निर्माता नितिन मनमोहन को दिल का दौरा पड़ने के बाद वेंटिलेटर पर रखा गया

मुंबई: बोल राधा बोल, दास, लाडला और अन्य के निर्माता नितिन मनमोहन को दिल का …