पीड़ित ने डीएम कार्यालय में किया आत्हदाह का प्रयास

कानपुर, 20 जून (हि.स.)। कई सालों से जमीन कब्जे की शिकायत लेकर अफसरों का चक्कर लगा रहे पीड़ित ने सोमवार को जिलाधिकारी कार्यालय पर आत्मदाह की कोशिश की। यहां पर उसने शरीर पर ज्वलनशील पदार्थ डालकर आत्मदाह करने वाला ही था कि यह देख वहां मौजूद सुरक्षा कर्मियों ने दौड़कर उसे पकड़ लिया। मामले की जानकारी की और न्याय दिलाए जाने का भरोसा दिलाया।

महाराजपुर के तिलसहरी खुर्द गांव में रहने वाले शिव सागर शुक्ला (48) की एक बीघा तीन बिस्वा जमीन है। उनकी जमीन पर तीन साल से गांव के गौरी लाल पासी व शिव प्रसाद पाल के परिवार ने कब्जा कर रखा है। जमीन कब्जा मुक्त कराने के लिए वह लगातार तहसील दिवस से लेकर अफसरों की चौखटों के चक्कर काट रहे हैं। अफसरों से न्याय न दिलाए जाने पर आज वह बेटे के साथ जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचे। यहां पर पीड़ित ने गेट के बाहर ज्वलनशील पदार्थ डालकर आग लगाने का प्रयास किया। यह देखते ही सुरक्षा कर्मियों ने दौड़कर उन्हें पकड़ लिया। इस घटना से कलेक्ट्रेट परिसर में हड़कम्प मच गया। अफसरों ने पीड़ित से पूछताछ की।

पीड़ित शिव सागर शुक्ला का आरोप है कि बीते दिनों नर्वल तहसीलदार से जमीन कब्जा मुक्त कराने की शिकायत लेकर वह पहुंचे तो उन्होंने मारने की धमकी दी और भगा दिया। जिम्मेदार अफसर जब ऐसा करेंगे तो किसी भी पीड़ित को न्याय कैसे मिलेगा।

प्रकरण को लेकर एडीएम सिटी अतुल कुमार ने बताया कि एक व्यक्ति कार्यालय आया था। उसके द्वारा आत्मदाह करने से पूर्व सुरक्षा कर्मियों ने रोक लिया। पीड़ित की शिकायत के संदर्भ में एसीएम को जानकारी के लिए लगाया गया है। एसडीएम नर्वल से बातकर पीड़ित की समस्या का निस्तारण के निर्देश दिए हैं। वहीं पीड़ित के अफसर पर लगाए आरोप की जांच कराई जा रही है। जांच के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

Check Also

वाराणसी के दिव्यांग छात्र हनुमंत ने पहले ही प्रयास में पार की सिविल सर्विस की पहली बाधा

वाराणसी, 02 जुलाई (हि.स.)। जीवन में कुछ हासिल करने का जज्बा हो तो कोई भी …