Uttarakhand Election 2022: कांग्रेस की स्क्रीनिंग कमेटी की आज फिर बैठक,शनिवार को जारी हो सकती है लिस्ट

उत्तराखंड विधानसभा चुनाव (Uttarakhand Election 2022) के लिए कांग्रेस (Congress) के प्रत्याशियों पर तस्वीर बिल्कुल साफ हो गई है और बताया जा रहा है कि राज्य की 70 में से 40 सीटों पर प्रत्याशियों के नाम लगभग तय हैं. वहीं आज एक बार फिर दिल्ली में स्क्रीनिंग कमेटी (Screening Committee) की बैठक होने जा रही है और माना जा रहा है कि आज नाम तय होने के बाद इसे आलाकमान की मंजूरी के लिए भेजा जाएगा. वहीं से मंजूरी मिलने के बाद लिस्ट को जारी कर दिया जाएगा. वहीं बताया जा रहा है कि पूर्व सीएम हरीश रावत और नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह खेमे ने भी ज्यादातर नामों पर अपनी सहमति जताई है.

जानकारी के मुताबिक गुरुवार को दिल्ली में रात साढ़े 11 बजे तक चली स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक में करीब 30 से 40 सीटों पर प्रत्याशियों के नाम पर सहमति बनी और आज एक बार फिर बची हुई सीटों पर चर्चा होगी. इसके लिए आज सुबह 11 बजे बैठक बुलाई गई है. वहीं चर्चा है कि शनिवार शाम को प्रस्तावित केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में पहली सूची को मंजूरी मिल सकती है. क्योंकि आज शाम तक सभी सीटों पर प्रत्याशियों के नाम पर स्क्रीनिंग कमेटी की मुहर लगने के बाद इसे आलाकमान के पास भेजा जाएगा और वहां से मंजूरी मिलने के बाद इसे जारी कर दिया जाएगा.

पार्टी में शामिल कुछ नेताओं के कारण बदले समीकरण

वहीं गुरुवार को कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल, कांग्रेस चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष पूर्व सीएम हरीश रावत और नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह स्क्रीनिंग कमेटी के साथ बैठक करते रहे. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक अब तक 30 से 40 सीटों पर टिकट के दावेदार तय माने जा रहे हैं. वहीं पार्टी में शामिल हुए कुछ नेताओं के कारण कुछ सीटों पर समीकरणों में कुछ बदलाव हुआ है.

 

स्क्रीनिंग कमेटी में भी दिखी गुटबाजी

जानकारी के मुताबिक कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय महासचिव अविनाश पांडेय की अध्यक्षता में हुई बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री व प्रदेश कांग्रेस चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष हरीश रावत, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल, नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह, प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव और तीनों प्रदेश सह प्रभारी शामिल हुए. वहीं समिति ने विधानसभा क्षेत्र की 70 सीटों के लिए टिकट पर विचार किया. लेकिन बैठक में राज्य में चली आ रही गुटबाजी भी देखने को मिली. वहीं केंद्रीय नेताओं ने कहा कि राज्य में सामुहिक नेतृत्व में चुनाव लड़ जाए और गुटबाजी चुनाव से पहले खत्म की जाए.

हरीश रावत लड़ेंगे चुनाव

वहीं बताया जा रहा है कि स्क्रीनिंग कमेटी की बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के चुनाव लड़ने की संभावना पर भी चर्चा हुई. हालांकि अभी तक इस बारे में कोई फैसला नहीं लिया जा सका और बताया जा रहा है कि हरीश रावत के लिए केन्द्रीय नेतृत्व ही फैसला करेगा. गौरतलब है कि राज्य में हरीश रावत कांग्रेस में सीएम के प्रबल दावेदार हैं.

Check Also

पॉलीग्राफ टेस्ट में हत्यारे आफताब का कबूलनामा, मैंने श्रद्धा को मारा- मुझे कोई मलाल नहीं

दिल्ली के महरौली के विवादित श्रद्धा हत्याकांड में एक बड़ी जानकारी सामने आई है . पॉलीग्राफ टेस्ट के …