US Russia: रूस और अमेरिका के बीच जुबानी जंग जारी, मास्को ने कहा- तनाव बढ़ा तो क्यूबा और वेनेजुएला में तैनात करेंगे सेना

रूस (Russia) के एक वरिष्ठ राजनयिक ने गुरुवार को चेतावनी दी कि अगर अमेरिका (US Russia Conflict) के साथ तनाव बढ़ता है तो क्यूबा और वेनेजुएला में रूस की सैन्य तैनाती की संभावनाओं को खारिज नहीं किया जा सकता. जिनेवा में सोमवार की वार्ता में रूसी प्रतिनिधिमंडल की अगुवाई करने वाले उप विदेश मंत्री सर्जेई रियाबकोव (Sergei Ryabkov) की टिप्पणी टेलीविजन पर प्रसारित हुई, जिसमें उन्होंने कहा कि क्यूबा और वेनेजुएला में रूस द्वारा सैन्य ढांचा खड़ा करने की संभावना की वह ना तो पुष्टि कर सकते हैं और ना ही इसे खारिज कर सकते हैं.

 

जिनेवा में हुई वार्ता और बुधवार को विएना में हुई नाटो-रूस की बैठक में यूक्रेन के नजदीक रूस की सैन्य तैनाती के बीच उसकी सुरक्षा मांगों को लेकर बनी खाई को पाटने में सफलता नहीं मिली (Russia vs US Ukraine). रूस के आरटीवीआई टीवी के साथ साक्षात्कार में रियाबकोव ने कहा, ‘यह सब हमारे अमेरिकी समकक्षों की गतिविधियों पर निर्भर करता है.’ उन्होंने कहा कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने चेतावनी दी है कि अगर अमेरिका रूस को उकसाने वाले कार्रवाई करता है और उस पर सैन्य दबाव बनाता है तो रूस भी सैन्य एवं तकनीकी कदम उठा सकता है.

 

रूस की मांगें खारिज की गईं

रियाबकोव ने कहा कि अमेरिका और नाटो ने यूक्रेन और अन्य पूर्व-सोवियत राष्ट्रों तक गठबंधन बल के विस्तार को रोकने की गारंटी देने के लिए रूस की मांगों को खारिज कर दिया है. उन्होंने कहा कि प्रयासों में अंतराल से वार्ता जारी रहने की संभावना को लेकर संशय पैदा हो गया है (Are Russian Troops in Ukraine). अमेरिका और रूस के बीच इस समय यूक्रेन सहित तमाम मुद्दों पर विवाद हो रहा है. लेकिन सबसे बड़ा मुद्दा अभी यूक्रेन का ही है.

 

बैठक कर रहे रूस-अमेरिका

यूक्रेन पर रूस के आक्रमण की आशंका को देखते हुए, इसे रोकने के लिए अमेरिका के नेतृत्व वाले सैन्य गठबंधन नाटो और रूस के वरिष्ठ अधिकारियों के बीच बैठक हो रही हैं (US Russia and Ukraine). रूस ने यूक्रेन पर हमले की योजना से इंकार किया है, लेकिन यूक्रेन और जॉर्जिया में इसकी सैन्य कार्रवाई के इतिहास को देखते हुए नाटो चिंता में है. उत्तर अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) के महासचिव जेंस स्टोल्टेनबर्ग ने कहा था कि यूक्रेन की सीमा के पास मास्को के बड़े स्तर पर सैनिक तैनात हैं, जिससे तनाव के बावजूद सैन्य संगठन और रूस अधिक बैठकें करने के लिए सहमत हुए हैं.

Check Also

चीन के पास इस साल के अंत तक अपना स्पेस स्टेशन होगा, चीन ने अंतरिक्ष यात्रियों को लॉन्च किया

अमेरिका और चीन के बीच हमेशा गलाकाट प्रतिस्पर्धा होती रहती है। दोनों देश आर्थिक विकास के …