मिसाइल परीक्षण के बाद अमेरिका ने उत्तर कोरियाई अधिकारियों पर प्रतिबंध लगाए

वाशिंगटन :  उत्तर कोरिया के ताजा बैलिस्टिक मिसाइल परीक्षण के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन प्रशासन ने एशियाई देश के पांच अधिकारियों पर प्रतिबंध लगाए तथा बाद में घोषणा की कि वह संयुक्त राष्ट्र से भी और नए प्रतिबंध लगाने की मांग करेगा। राजकोष विभाग ने कहा कि वह उत्तर कोरिया के मिसाइल कार्यक्रमों के लिए तकनीक तथा उपकरण हासिल करने में भूमिकाओं को लेकर पांच अधिकारियों पर जुर्माना लगा रहा है। इसके अलावा विदेश विभाग ने एक अन्य उत्तर कोरियाई व्यक्ति, रूसी व्यक्ति तथा रूसी कंपनी के खिलाफ प्रतिबंध लगाने का आदेश दिया है।

उत्तर कोरिया के विध्वंसक गतिविधियों के हथियारों में व्यापक सहयोग देने के लिए इन पर प्रतिबंध लगाने का आदेश दिया है। राजकोष विभाग ने यह कदम तब उठाया है जब कुछ घंटों पहले उत्तर कोरिया ने कहा कि उसके नेता किम जोंग उन के समक्ष मंगलवार को एक हाइपरसोनिक मिसाइल का सफल परीक्षण किया गया। संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की राजदूत लिंडा थॉमस ग्रीनफील्ड ने बुधवार रात को ट्वीट किया कि राजकोष और विदेश विभाग द्वारा प्रतिबंध लगाए जाने के बाद अमेरिका भी संयुक्त राष्ट्र में सितंबर के बाद से उत्तर कोरिया के छह बैलिस्टिक मिसाइल परीक्षण करने के जवाब में उस पर प्रतिबंध लगाने का प्रस्ताव दे रहा है।

राजकोष विभाग के आतंकवाद और वित्तीय खुफिया के प्रमुख ब्रायन नेल्सन ने कहा, ‘‘उत्तर कोरिया के ताजा मिसाइल परीक्षण इस बात का सबूत हैं कि वह कूटनीति और परमाणु निरस्त्रीकरण के लिए अंतरराष्ट्रीय समुदायों की अपीलों के बावजूद प्रतिबंधित कार्यक्रमों को आगे बढ़ा रहा है।” इन प्रतिबंधों से अमेरिका के न्यायाधिकार क्षेत्र में आने वाली संपत्तियां कुर्क की जाएंगी, अमेरिकी लोगों को उनके साथ व्यापार करने की मनाही होगी और उनके साथ लेनदेन करने पर विदेशी कंपनियों और लोगों पर जुर्माना लगाया जाएगा।

Check Also

दक्षिण कोरिया: एक व्यक्ति ने मैरिज एजेंसी से विवाद के बाद खुद को लगाई आग

सियोल :  दक्षिण कोरिया में एक अंतर्राष्ट्रीय मैरिज एजेंसी के साथ विवाद के बाद गुस्से …