अंडर-19 वर्ल्ड कप: कोच कानिटकर ने कहा, ढुल मैदान पर कड़े फैसले लेने में सक्षम

गुयाना: भारत के पूर्व खिलाड़ी और अंडर-19 टीम के कोच हृषिकेश कानिटकर को भरोसा है कि टीम के खिलाड़ी विश्व कप में अपने प्रदर्शन से जीत की ओर आगे बढ़ेंगे. यश ढुल के नेतृत्व में भारत 15 जनवरी को ग्रुप बी में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अपने मैच की शुरुआत करेगा और कोच कानिटकर का मानना है कि युवा खिलाड़ी अपनी जिम्मेदारी को अच्छे से निभाएंगे.

कोच ने शुक्रवार को कहा, “किसी भी टीम का कप्तान बनने के लिए आपके अंदर कुछ गुण होने चाहिए, जिसमें आप अपनी टीम का सम्मान करें. अगर आप के अंदर यह गुण नहीं हैं, तो आप कप्तान या खिलाड़ी तो बन जाएंगे, लेकिन आप ऐसे ज्यादा दिन काम नहीं कर पाएंगे. जरूरत पड़ने पर कप्तान के अंदर मैदान पर कड़े फैसले लेने में सक्षम होना चाहिए. कप्तान को फैसले लेने के लिए हमेशा दूसरे पर निर्भर नहीं होना चाहिए और यश के पास फैसले लेने की क्षमता है.”

भारत को टूर्नामेंट से पहले एक बड़ी जीत मिली, जब उन्होंने गुयाना के एक अभ्यास मैच में ऑस्ट्रेलिया को नौ विकेट से हराया, जिसमें हरनूर सिंह ने शतक और ढुल ने नाबाद अर्धशतक लगाया था.

कानिटकर ने ढुल की कप्तानी को सहज बताया और कहा कि युवा खिलाड़ी को अपना काम पूर्णता के साथ करना पसंद है.

ढुल भारतीय टीम के टेस्ट कप्तान विराट कोहली से प्रेरित हैं. उन्होंने कहा, मैं उसी तरह से काम करने की कोशिश करता हूं, जैसा कोहली करते हैं. बल्लेबाजी करते हुए और टीम की अगुवाई करते हुए मैदान पर विराट कोहली का रवैया अच्छा लगता है. मैं भी मैदान पर उसी तरह से काम करने की कोशिश करता हूं.

2014 में जीत के बाद दक्षिण अफ्रीका अपने दूसरे अंडर -19 सीडब्ल्यूसी खिताब के लिए आगे बढ़ेगा और कप्तान जॉर्ज वैन हीर्डन ने कैरेबियाई पिचों पर भी क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन करते हुए जीत की और बढ़ने का वादा किया है.

Check Also

बड़ी खबर! क्रिकेट में फिर हुई बॉल टैंपरिंग, अंपायर ने टीम को दी सजा

मुंबई, 26 जनवरी: ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के बीच टेस्ट सीरीज में 4 साल पहले बॉल …