यमुना नदी में नहाते समय डूबे मामा-भांजे, गोताखोर तलाश में जुटे

कानपुर देहात, 24 जून (हि.स.)। जनपद के मूसानगर थानाक्षेत्र में मंदिर में प्रसाद चढ़ाने निकले मामा-भांजे यमुना नदी में डूब गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों को नदी में ढूढ़ने के लिए गोताखोर लगा दिए हैं और दोनों की तलाश जारी है।

मूसानगर के आनंद पुरवा गांव के रहने वाले है विक्रम सिंह और कानपुर के घाटमपुर के रामपुर का रहने वाला भांजा प्रिंस मुक्ता देवी दर्शन के लिए घर से निकले थे। मंदिर पहुंच कर दोनों ने प्रसाद चढ़ाने से पहले मन्दिर के पीछे गुजर रही यमुना नदी में नहाने का मन बनाया और उसमें नहाने के लिए उतरे गए। नदी में नहाते समय भांजा ज्यादा गहरे पानी में जा पहुंचा और डूबने लगा। भांजे को डूबता देख मामा उसको बचाने के लिए गहरे पानी में चला गया, जिससे दोनों नदी में डूब गए। मौके पर स्नान कर रहे लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी।

सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और गोताखोरों के माध्यम से नदी में डूबे मामा-भांजे की तलाश शुरू करवाई। खबर लिखे जाने तक दोनों का कोई पता नहीं चल सका है। पुलिस गोताखोरों के माध्यम से लगातार दोनों को ढूढ़ने का प्रयास कर रही है।

Check Also

दुनिया का सबसे बड़ा तानपुरा पंडित लालमणि मिश्रा संग्रहालय में स्थित है

वाराणसी: क्या आप दुनिया के सबसे बड़े तानपुरा के बारे में जानते हैं? दुनिया का सबसे बड़ा …