एक लड़का और लड़की कभी दोस्त नहीं हो सकते! रोमांस का कितना होता है चांस? जानिए यहाँ

नई दिल्ली: साल 1989 में बॉलीवुड की एक ब्लॉकबस्टर हिंदी फिल्म आई थी, मैंने प्यार किया जिसमें लीड एक्टर सलमान खान और एक्ट्रेस भाग्यश्री के रिश्ते की शुरुआत दोस्ती के जरिए हुई थी जो आगे चलकर प्यार में तब्दील हो गई थी. इस फिल्म का एक बड़ा ही फेमस डायलॉग है जो विलेन मोहनीश बहल ने दिया था. डायलॉग था कि ‘एक लड़का और लड़की कभी दोस्त नहीं हो सकते.’ भले ही उस दौर में ये बात सच के बेहद करीब लग रही थी, लेकिन 33 साल बाद की बात करें तो लोगों की सोच काफी हद तक बदल चुकी है.

क्या लड़का और लड़की में सिर्फ दोस्ती मुमकिन है?

बदलते दौर की बात करें तो मौजूदा समय में हमने ऐसी कई मिसालें देखी हैं कि लड़का और लड़की न सिर्फ अच्छे दोस्त रहे हैं, बल्कि कई लोगों ने इस खूबसूरत रिश्ते को जिंदगीभर के लिए निभाया है. किसी की भी दोस्ती की शुरुआत तब होती है जब दोनों के हालात या फिर इंट्रेस्ट एक जैसे हों.

ऐसी दोस्ती क्यों बन जाती है पक्की?

किसी भी रिश्ते या दोस्ती में सबसे ज्यादा जरूरी है भरोसा, इसके साथ ही ये रिश्ता तब तक चलता है जब तक कि दोनों के बीच में किसी तरह का स्वार्थ न पैदा हुआ हो. लड़कियों को इस बात का भरोसा रहे कि वो अपने पुरुष मित्र के साथ सुरक्षित हैं, वहीं मेल फ्रेंड को भी इस बात का यकीन रहना चाहिए कि वो दोस्ती के नाम पर किसी भी तरीके से इस्तेमाल तो नहीं किए जा रहे.

दोस्ती के प्यार में बदलने का कितना है चांस?

स्टडीज के मुताबिक लड़के और लड़की की दोस्ती में रोमांस के चांस भी मौजूद रहते हैं. जी हां, सच तो ये है कि किसी न किसी मोड़ पर आपकी दोस्ती में रोमांस की कभी भी एंट्री हो सकती है.’ हालांकि ज्यादातर मामले में ये प्यार एकतरफा होता है. दोस्ती पूरी तरह से एक कामयाब प्यार में तभी बदलेगी जब दूसरा शख्स भी आपके लिए वही फीलिंग रखता हो.

Check Also

Cabbage Juice Benefits: पत्तागोभी का जूस सिर्फ वजन ही कम नहीं करता बल्कि इसके और भी कई बड़े फायदे

कुछ डिटॉक्स ड्रिंक्स हैं, जिनके सेवन से वजन घटाने में मदद मिलती है। इन्हीं में से …