लोनी : गाजियाबाद जिले के लोनी बॉर्डर थानाक्षेत्र की बलराम नगर कॉलोनी में 22 जुलाई को सरोज बाला नाम की महिला की हत्या उसके पड़ोसी के घर किराए पर रहने वाले दो युवकों ने की थी। तीन दिन पहले दिल्ली के करावल नगर में हुई महिला की हत्या के आरोप में पकड़े गए दो युवकों ने घटना में संलिप्तता कबूल की है। दिल्ली पुलिस की सूचना पर पहुंची लोनी बॉर्डर पुलिस को दोनों आरोपियों ने बताया कि वह चोरी करने सरोज बाला के घर में घुसे थे। इस दौरान सरोज बाला ने उन्हें देख लिया था। पकड़े जाने के डर से उन्होंने उसकी गला दबाकर हत्या कर दी थी।

22 जुलाई को लोनी बॉर्डर थानाक्षेत्र की बलराम नगर कॉलोनी में सरोज बाला नाम की महिला की गला दबाकर हत्या कर दी गई थी। वारदात की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस को घर में रखा कैश व जेवर गायब मिले थे। इसके बाद लूटपाट के बाद हत्या की आशंका जताते हुए मृतका के बेटे ने लोनी बॉर्डर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इसी कड़ी में दिल्ली के करावल नगर थाना पुलिस ने लोनी बॉर्डर पुलिस से संपर्क किया। करावल नगर पुलिस ने बताया कि उन्होंने अपने यहां हुई हत्या के आरोप में दो आरोपी पकड़े हैं। पूछताछ में उन्होंने 22 जुलाई को बलराम कॉलोनी में सरोज बाला नाम की महिला की हत्या की बात भी कबूल की है। लोनी बॉर्डर थाना एसएचओ सचिन कुमार ने बताया कि अमन और आकाश बीती 10 जनवरी को करावल नगर के कपड़ा कारोबारी के घर में चोरी करने घुसे। इसी दौरान वहां महिला तारा बौद्ध ने उन्हें देख लिया तो उसकी कैंची से गोदकर हत्या कर दी थी।

पुलिस के मुताबिक, आरोपियों की पहचान बलराम नगर कॉलोनी निवासी अमन और आकाश के रूप में हुई है। पूछताछ में दोनों ने बताया कि वह पहले सरोज बाला के पड़ोसी के घर में किराए पर रहते थे। दोनों ने सरोज बाला के घर में चोरी की योजना बनाई। 22 जुलाई को वह पहचान छिपाने के लिए महिलाओं के कपड़े पहनकर सरोज बाला के घर में चोरी करने घुस गए। उन्होंने घर में रखे करीब सवा लाख रुपये और जेवर चोरी कर लिए। इसी दौरान सरोजबाला ने उन्हें देख लिया। पोल खुलने पर दोनों ने सरोज बाला की मुंह और गला दबाकर हत्या कर दी और माल लेकर फरार हो गए।