बांग्लादेशी जिहादी संगठन के दो सदस्य हिरासत में, स्लिपर सेल के रूप में करते थे काम

मोरीगांव (असम), 13 अगस्त (हि.स.)। बांग्लादेशी जिहादी संगठन अंसारुल बांग्ला टीम (एबीटी) के स्लिपर सेल के रूप में सक्रिय दो सदस्यों को हिरासत में लेकर पुलिस पूछताछ कर रही है।

शनिवार को पुलिस ने बताया कि पूर्व में गिरफ्तार आरोपितों से पूछताछ के दौरान मिली जानकारी पर इमाम अहमद अली और जियारुल हक को बीती रात हिरासत में लिया गया। काफी समय से इनकी तलाश थी। 29 जुलाई से ही ये भूमिगत हो गये थे।

पुलिस ने बताया है कि शहर के मध्य मिलनपुर स्थित नूर मस्जिद के फरार इमाम अहमद अली और भोरगांव के फलिहामारी पथार के जियारुल हक को भोरगांव के एक गुप्त स्थान से पकड़ा गया है। जांच में पता चला है कि इमाम अहमद अली गिरफ्तार जिहादी मुफ्ति मुस्तफा और फरार चल रहे अबू तालहा का घनिष्ठ सहयोगी है।

अहमद अली ने फरार चल रहे जिहादी अबू तालहा को छुपने के लिए मिलनपुर में किराए पर घर लेकर दिया था। फिलहाल पुलिस अबू तालहा की तलाश कर रही है।

ज्ञात हो कि मोरीगांव में 27 जुलाई को जमीउल हुदा मदरसा के मुफ्ती मुस्तफा अहमद समेत 8 लोगों को पुलिस ने जिहादी गतिविधियों में शामिल होने और स्लिपर सेल के रूप में कार्य करने के आरोप में गिरफ्तार किया था। बाद में मुफ्ती की पत्नी और उसके भाई को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था।

Check Also

526158-vihir

विज्ञान के तथ्य : कुएं का आकार गोल क्यों होता है? जानिए वैज्ञानिक कारण!

रोचक विज्ञान तथ्य: एक कुआँ गोल क्यों होता है? क्या आपने कभी इसे देखने के बाद इसके …