पुलिस से परेशान होकर आत्महत्या करने पर मजबूर हुआ ये परिवार, इससे पहले भी लगा चुका है मदद की गुहार

आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) में एक बार फिर पुलिस की प्रताड़ना से परेशान होकर पूरे परिवार ने आत्महत्या करने की कोशिश की. दरअसल, आंध्र प्रदेश के कर्नूल जिले में चागलामर्री इलाके के पास रहने वाले अकबर का जमीन को लेकर विवाद चल रहा था. आरोप है कि इस मामले में सेटलमेंट कराने के लिए पुलिस उन्हें काफी प्रताड़ित कर रही थी.

इसके पहले भी अकबर मैदुकुरु पुलिस इंस्पेक्टर कोंडारेड्डी दूसरे लोगों के साथ मिलकर जमीन सेटलमेंट को लेकर उसे प्रताड़ित कर चुका है, जिसका उसने एक सेल्फी वीडियो वायरल किया था. इस मामले में मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी ने उसे आश्वासन दिलाया था कि पुलिस फिर कभी उसे प्रताड़ित नहीं करेगी लेकिन, इसके बाद भी अकबर का जमीन विवाद खत्म नहीं हुआ.

सभी लोगों का अस्पताल में इलाज जारी

बताया जा रहा है कि जमीन के सेटलमेंट को लेकर अकबर ने फिर पुलिस की प्रताड़ना से परेशान होकर अपनी पत्नी, दोनों बच्चों के साथ सेल्फी वीडियो बनाकर कीटनाशक जहर पीकर आत्महत्या करने की कोशिश की. स्थानीय लोगों ने उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया है, जहां उनका इलाज चल रहा है.

पुलिस पर पिछले महीने लगा था गंभीर आरोप

पिछले महीने 12 अगस्त को आंध्र प्रदेश के पूर्वी गोदावरी जिले में रहने वाले एक व्यक्ति द्वारा आत्महत्या करने का दिल दहला देने वाला मामला सामने आया था. राजमंड्री रूरल के पीडिंगोय्या गांव के रहने वाले पिच्चूका मज्जी (23) नामक युवक ने कथित रूप से पुलिस प्रताड़ना से तंग आकर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. आत्महत्या से पहले युवक मज्जी ने एक सेल्फी वीडियो बनाकर दोस्तों को भेजा था, जिसमें अपनी पुलिस द्वारा प्रताड़ित होने की बात कही थी.

मज्जी ने सेल्फी वीडियो में कहा था, “आंध्र प्रदेश में प्रवेश करने के बाद कृष्णा जिले में चेकिंग के दौरान चिल्लकल्लु पुलिस ने उसकी शराब की बोतलें जब्त कर ली और उस पर अवैध तरीके से शराब लाने के आरोप में (क्राइम नंबर 716/2020 के तहत) मामला किया गया, जबकि वह अपने दोस्तों के लिए केवल दो बोतल शराब लेकर घर लौट रहा था.”

Check Also

Goa Assembly Election: रोचक हो रही गोवा की जंग, एक्टिव मोड में TMC और AAP, 30 अक्टूबर को राहुल गांधी का दौरा

गोवा में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए सियासी जंग दिनों दिन रोचक …