सुप्रीम कोर्ट की शर्त के बावजूद केंद्रीय एजेंसियों को तृणमूल सांसद ने दी धमकी

कोलकाता, 23 जून (हि.स.)। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी और उनकी पत्नी रुजीरा बनर्जी से केंद्रीय एजेंसियों की कोलकाता में पूछताछ को सुप्रीम कोर्ट की सशर्त अनुमति के बावजूद तृणमूल सांसद सांतनु सेन ने एजेंसियों को धमकी दी है। पश्चिम बंगाल के बहुचर्चित कोयला और मवेशी तस्करी मामले में अभिषेक और रूजीरा से ईडी और सीबीआई की टीम दिल्ली में पूछताछ के लिए कई बार नोटिस भेज चुकी थी। लेकिन दोनों ने पहले दिल्ली की कोर्ट और उसके बाद सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाकर कोलकाता में पूछताछ की गुहार लगाई थी।

इसके बाद केंद्रीय एजेंसियों ने कोर्ट में बताया था कि कोलकाता में दोनों से पूछताछ होने पर तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता विरोध प्रदर्शन, हिंसा और केंद्रीय एजेंसी के अधिकारियों पर हमले की कोशिश करते हैं। इसके बाद कोर्ट ने इस शर्त पर कोलकाता में पूछताछ की अनुमति दी थी कि सीबीआई और ईडी के खिलाफ किसी तरह का कोई विरोध प्रदर्शन या चिंताजनक घटना नहीं होनी चाहिए। इसी आधार पर आज ईडी ने अभिषेक बनर्जी की पत्नी रूजीरा बनर्जी से पूछताछ की है। इसके अलावा दो बार सीबीआई की टीम उनके घर जाकर पूछताछ कर चुकी है। अब गुरुवार को तृणमूल कांग्रेस के राज्यसभा सांसद शांतनु सेन ने केंद्रीय एजेंसियों को चेतावनी दी है। उन्होंने कहा है कि बार-बार अभिषेक और उनकी पत्नी से पूछताछ कर उन्हें परेशान करने की कोशिश की जाएगी तो पार्टी चुप नहीं रहेगी।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सुकांत मजुमदार ने उनके इस बयान की निंदा की है। उन्होंने कहा है कि इस तरह से अगर हंगामा खड़ा करना है तो तृणमूल कांग्रेस को कोर्ट जाना चाहिए लेकिन केंद्रीय एजेंसियों की पूछताछ में किसी तरह से बाधा बनने की कोशिश निंदनीय है। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने इसी शर्त पर कोलकाता में पूछताछ की अनुमति दी है कि यहां एजेंसियों के अधिकारियों की सुरक्षा में कोताही नहीं बरती जानी चाहिए लेकिन इस तरह की धमकी चिंताजनक है।

Check Also

महिलाओं के शर्ट के बटन बाईं ओर और पुरुषों की शर्ट के बटन दाईं ओर क्यों होते हैं? जानिए इसके पीछे की वजह

दुनिया में हर दिन नई खोजें हो रही हैं। मनुष्य की जिज्ञासा, खोज और कड़ी मेहनत …