मानसून में होने वाली त्वचा संबंधी समस्याओं का इलाज इन घरेलू नुस्खों से करें, ये जड़ी-बूटियां करेंगी मदद

मानसून इस पृथ्वी और इसके सभी प्राणियों में नया जीवन लाता है। मॉनसून की बारिश भीषण गर्मी से राहत दिलाती है। यह खेत की फसलों और पृथ्वी के हर पौधे को नया जीवन देता है। प्रकृति हर तरफ से फलती-फूलती है। लेकिन इस मानसूनी बारिश के कारण इसके साथ कई समस्याएं भी आती हैं। जैसे प्रदूषण, बीमारियां, ट्रैफिक जाम और कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं। मानसून में संक्रमण अधिक फैलता है । मानसून में त्वचा पर घाव भरने में समय लगता है। मानसून में त्वचा संबंधी समस्याओं के 2 कारण होते हैं। पहला कारण – संक्रमण और दूसरा कारण – रक्त में अशुद्धियाँ। मानसून की बारिश के कारण त्वचा की समस्याएं बार-बार बैठता है। इससे त्वचा पर छाले पड़ जाते हैं। इन फफोले के कारण होने वाले घावों में दर्द और कई अन्य समस्याएं होती हैं। कुछ घरेलू उपाय ऐसी समस्याओं से निजात दिला सकते हैं।

ऐसी त्वचा या स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं को ठीक करने के लिए आज भी भारत में घरेलू नुस्खों का इस्तेमाल किया जाता है। आप भी अपनी त्वचा संबंधी समस्याओं को दूर करने के लिए इन घरेलू नुस्खों को अपना सकते हैं। आइए जानते हैं कुछ जड़ी-बूटियों के बारे में जो इसमें मदद करती हैं।

नीम के पत्तों से उपचार

आयुर्वेद में सभी प्रकार की समस्याओं के इलाज के लिए नीम के पत्तों को सबसे अच्छा माना गया है। नीम का महत्व ऐसा है कि इसके कई उत्पाद बाजार में उपलब्ध हैं। बारिश में घाव भरने के लिए नीम के पत्ते लें, उन्हें पीस लें और इस लेप को घाव पर लगाएं। नीम के जीवाणुरोधी और एंटीसेप्टिक गुण त्वचा को ठीक करने में मदद करेंगे।

करी पत्ते से उपचार

करी पत्ते को एक ऐसी जड़ी-बूटी भी माना जाता है जो खाने का स्वाद बढ़ाती है। इसमें एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-एलर्जी गुण होते हैं, जो त्वचा के घावों को जल्दी भरने में कारगर होते हैं। करी पत्ता का घरेलू उपाय अपनाने से त्वचा पर होने वाली सूजन भी कम होने लगती है। आपको रोजाना 3-4 करी पत्ते चबाना है। ये नुस्खे रक्त को शुद्ध करने में मदद करेंगे। इसके अलावा करी पत्ते और लौंग को पीसकर उसमें नारियल का तेल मिलाएं। इस पेस्ट को घाव पर दिन में दो बार लगाएं।

इन घरेलू नुस्खों में से कई का उपयोग मानसून की त्वचा की समस्याओं को ठीक करने के लिए किया जा सकता है।

Check Also

526142-1349073-belly-fat-pista1

वजन घटाने के उपाय: इस सूखे मेवे को खाने से मोम की तरह पेट की चर्बी पिघलती है और याददाश्त में सुधार

वजन घटाने के लिए पिस्ता: हम सभी जानते हैं कि सूखे मेवे और नट्स खाने …