चंबल में नाव से घडियाल और डाल्फिन का दीदार कर सकेंगे सैलानी

धौलपुर, 22 जून (हि.स.)। दुर्लभ जलीय जीवों के लिए देश और दुनिया में प्रख्यात चंबल नदी में सफारी के लिए आने वाले सैलानी अब नाव से घडियाल एवं डाल्फिन का दीदार कर सकेंगे। धौलपुर नगर परिषद ने चंबल सफारी के लिए एक नई तथा अधिक क्षमता वाली सुविधाजनक नाव का संचालन शुरू किया है।

सभापति खुशबू सिंह ने बुधवार को वैदिक रीति से नई नाव का पूजन किया। इस मौके पर सभापति सिंह ने कहा कि धौलपुर में चंबल सफारी के लिए आने वाले पर्यटकों के लिए नगर परिषद ने नई नाव के संचालन की सुविधा शुरू की है। इस सुविधा से राजस्थान के पूर्वी जिले धौलपुर आने वाले देशी और विदेशी पर्यटकों को चंबल घडियाल तथा डाल्फिन का दीदार चंबल नदी के बीच में बोटिंग करते हुए हो सकेगा। नगर परिषद के कमिश्नर लजपाल सिंह सोडा ने बताया कि नगर परिषद द्वारा चंबल सफरी के लिए करीब 16.50 लाख रुपये की कीमत से नई नाव खरीदी गई है। इस बोट की क्षमता 14 सवारियों की है। नगर परिषद के पास में एक पुरानी नाव भी है,जिसकी क्षमता 8 सवारियों की है। अब नगर परिषद के पास में पर्यटकों को सैर कराने के लिए दो नाव हो गईं हैं।

उल्लेखनीय है कि धौलपुर जिला राजस्थान का सीमावर्ती जिला है। चंबल नदी घडियाल तथा डाल्फिन समेत अन्य जलीय जीवों के लिए प्रसिद्व है। चंबल सफारी के तहत नाव के संचालन से पर्यटक काफी नजदीक इन जलीय जीवों को निहार सकेंगे।

Check Also

तीस्ता सीतलवाड़ को कोर्ट में पेश किया गया, क्राइम ब्रांच ने मांगा 14 दिन का रिमांड

क्राइम ब्रांच ने तीस्ता सीतलवाड़ और श्रीकुमार को कोर्ट में पेश किया, वकील से मिलने …