देशभर के टूर आपरेटर और गाइड “फेम ट्रिप” पर 3 से 5 फरवरी तक ग्वालियर में

ग्वालियर, 2 फरवरी (हि.स.)। अंतरराष्ट्रीय पर्यटन मानचित्र पर ग्वालियर की पहचान बढ़ाने के लिए सुनियोजित प्रयास किए जा रहे हैं। इस कड़ी में देशभर के टूर ऑपरेटर और गाइड “फेम ट्रिप” पर 3 से 5 फरवरी तक ग्वालियर प्रवास पर रहेंगे। शहर में देशी-विदेशी पर्यटकों की संख्या बढ़ाने और स्थानीय पर्यटन स्थलों का अधिक से अधिक प्रचार करने के उद्देश्य से जिला प्रशासन, स्मार्ट सिटी कॉरपोरेशन और पर्यटन विभाग द्वारा इस फेम ट्रिप का आयोजन किया जा रहा है।

यह जानकारी शुक्रवार को ग्वालियर कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह ने दी। उन्होंने बताया कि इस फेम ट्रिप में देश के अलग-अलग हिस्सों से लगभग 60 सदस्यीय टूर आपरेटर और टूरिस्ट गाइड की टीम इन दिवसों में शहर में रहकर ऐतिहासिक धरोहरों सहित पर्यटन स्थलों की सैर करेगी। इस दौरान यह दल जहाँ शहर की ऐतिहासिक विरासत ग्वालियर किला, जयविलास पैलेस, मोहम्मद गौस का मकबरा, गुजरी महल व महाराज बाडा सहित अन्य ऐतिहासिक विरासत देखेंगे वहीं तिघरा पहुँच कर वहाँ बसेरा करने आए देशी-विदेशी पक्षियों का कलरव (बर्ड वाचिंग) देखने-सुनने भी पहुँचेंगे।

उन्होंने बताया कि फेम ट्रिप कार्यक्रम के तहत यह दल 3 फरवरी को ग्वालियर पहुंचेगा। यहाँ पहुंच कर 3 फरवरी को ऐतिहासिक विरासत ग्वालियर किला, गुजरी महल, और मोहम्मद गौस का मकबरा को देखने जायेगा। इसी दिन शाम को इस दल के साथ ग्वालियर पर्यटन को लेकर जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ चर्चा परिचर्चा भी की जायेगी। दूसरे दिन चार फरवरी को यह दल सुबह के समय तिघरा में बर्ड वाचिंग कराई जायेगी। दोपहर में जय विलास पैलेस सहित महाराज बाडा, बैजाताल को दिखाया जायेगा। साथ ही टाउन हॉल में आयोजित सास्कृतिक कार्यक्रम में भी दल पहुँचेगा।

कलेक्टर सिंह एवं स्मार्ट सिटी की सीईओ नीतू माथुर ने बताया कि इस फेम ट्रिप का उद्देश्य है कि देशभर के टूर ऑपरेटर व गाइड अपने पर्यटन कैलेण्डर के माध्यम से ग्वालियर शहर के पर्यटन स्थलों का भी प्रचार करें, जिससे दुनियाभर के पर्यटक यहाँ आने के लिये आकर्षित हो सकें। साथ ही अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ग्वालियर को पर्यटन नक्शे में सम्माननीय स्थान मिल सके। पिछले सालों में ग्वालियर शहर में पर्यटन बढ़ावा देने की कड़ी में कई कार्य कराए गये हैं। साथ ही ग्वालियर की ऐतिहासिक और संगीत व सांस्कृतिक पहचान को पूरे देश व विदेश में पहचान मिल सके, उसके लिये जिला प्रशासन के सहयोग से इंडियन एसोसिएशन आफ टूर आपरेटरर्स (आइएटीओ) से भी संपर्क किया गया है। परिवहन विभाग के माध्यम से देशभर के अलग-अलग हिस्सों से सक्रिय टूर आपरेटर की सूची प्राप्त की गई है। उसी के तहत फेम ट्रिप कार्यक्रम के माध्यम से इस दल को ग्वालियर भ्रमण कराया जा रहा है।