वर्ल्ड कप के फाइनल मैच के लिए बदल गया टाई नियम, जानें क्या है नया नियम?

क्रिकेट प्रेमी रविवार (19 नवंबर) को भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच होने वाले फाइनल मैच का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। भारत और ऑस्ट्रेलिया की टीमें 20 साल बाद विश्व कप फाइनल में भिड़ने से पहले एक-दूसरे की कमजोरियों और कमियों को लेकर जोर-शोर से तैयारी कर रही हैं। भारतीय टीम लीग चरण से लेकर सेमीफाइनल तक अजेय रही है। जबकि ऑस्ट्रेलियाई टीम को लीग चरण के दो मैचों में भारत और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था। फाइनल मैच से पहले क्रिकेट प्रेमियों के मन में कई सवाल हैं जैसे अगर खराब मौसम, टाई या किसी अन्य स्थिति के कारण मैच नहीं हुआ तो विश्व कप का विजेता कौन होगा?

खराब मौसम के कारण मैच में बदलाव किया जाएगा

 

मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक, रविवार (19 नवंबर) को क्रिकेट विश्व कप के फाइनल मैच पर बारिश या किसी अन्य मौसम के प्रभाव पड़ने की कोई संभावना नहीं है। हालांकि, प्रकृति के आगे हर कोई बेबस है और मौसम खराब होने की स्थिति में यह मैच इसी मैदान पर रिजर्व डे पर खेला जाएगा. अगर रिजर्व डे पर भी मैच नहीं हुआ तो भारत-ऑस्ट्रेलिया टीम को वर्ल्ड कप 2023 के लिए संयुक्त विजेता घोषित कर दिया जाएगा. विश्व कप फाइनल में अगर मैच टाई होता है तो दोनों टीमों के चैंपियन का फैसला सुपर ओवर से होगा।

चैंपियन का फैसला होने तक सुपर ओवर जारी रहेगा

सुपर ओवर में दोनों टीमों के बीच एक ओवर का मैच खेला जाएगा और ऐसे में अगर सुपर ओवर में भी कोई फैसला नहीं होता है तो दूसरा सुपर ओवर खेला जाएगा. ऐसा तब तक हो सकता है जब तक कोई एक टीम विजयी न हो जाए. अब क्रिकेट प्रेमियों के मन में यह जिज्ञासा जाग रही होगी कि क्या इस बार बाउंड्री काउंट का नियम लागू नहीं होगा? जिसके आधार पर 2019 विश्व कप की चैंपियन टीम का फैसला किया गया. दरअसल, 2019 में इंग्लैंड द्वारा आयोजित विश्व कप में न्यूजीलैंड और मेजबान टीम के बीच मैच टाई हो गया था। इसके बाद सुपर ओवर भी टाई हो गया और फिर बाउंड्री काउंट नियम के आधार पर इंग्लैंड चैंपियन बन गया.

आईसीसी ने इन नियमों को खत्म कर दिया

साल 2019 का फाइनल मैच टाई होने के बाद चैंपियन टीम का फैसला करने के लिए सुपर ओवर खेला गया। सुपर ओवर में भी मैच टाई हो गया, जिसके बाद बाउंड्री काउंट पर सबसे ज्यादा चौके-छक्के लगाने वाली टीम को विजेता घोषित किया गया। इसके आधार पर मेजबान इंग्लैंड पहली बार क्रिकेट विश्व कप चैंपियन बना। ऐसा ही एक मैच 2007 टी20 वर्ल्ड कप में भारत और पाकिस्तान के बीच खेला गया था जब दोनों टीमों के बीच रोमांचक मैच टाई पर खत्म हुआ था. इसके बाद बॉल आउट नियम के आधार पर विजेता टीम का फैसला किया गया। हालांकि, विवाद के बाद ICC ने इन नियमों को खत्म कर दिया।