नियुक्ति को फर्जी कह शिक्षकों से करते थे वसूली, तीन गिरफ्तार

20dl_m_1066_20092022_1

गोरखपुर, 20 सितंबर (हि.स.)। शिक्षकों की नियुक्ति को फर्जी बताकर घुड़की देने और रंगदारी वसूलने के तीन आरोपियों को कैण्ट पुलिस ने गिरफ्तार किया है। कार्रवाई करते हुए इन्हें जेल भेज दिया गया है। ये तीनों आरोपी महराजगंज, गोरखपुर और बस्ती जिलों के रहने वाले हैं।

जानकारी के मुताबिक कम्पोजिट पूर्व माध्यमिक विद्यालय जानीपुर ब्लाक कौड़ीराम के एक सहायक अध्यापक की शिकायत पर जांच चल रही थी। इस पीड़ित शिक्षक को 10 अगस्त को एक स्पीड पोस्ट मिला। रुद्र प्रताप पुत्र सरजू, शिवपुर शाहबाजगंज नहर रोड, पादरी बाजार, गोरखपुर की ओर से भेजे गए इस पत्र में पीड़ित शिक्षक के बीपीएड का अंकपत्र फर्जी होने की बात कह इसकी शिकायत एसटीएफ और बीएसए आफिस में करने की घुड़की दी गई थी। शिकायत न करने की इजाजत में पैसों की डिमांड हुई थी। इसके बाद पीड़ित शिक्षक ने इसकी शिकायत कैण्ट थाने की की और मुकदमा दर्ज कराया था। इसके बाद से ही पुलिस इनकी सुरागकशी में लगी थी। मंगलवार को इन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।

इनकी हुई गिरफ्तारी

गिरफ्तार होने वालों में महराजगंज जिले के श्यामदेउरवा थाना क्षेत्र के बनकटिया तिवारी गांव का राजकुमार यादव पुत्र पारसनाथ यादव, गोरखपुर के बेलीपार थाना क्षेत्र के जोतबगही पोस्ट भौवापार निवासी रुद्र प्रताप यादव उर्फ आरपी पुत्र स्व सरजू यादव और बस्ती जिले के थाना गौर क्षेत्र के आमाबाजार गांव का गिरधारी लाल जायसवाल पुत्र स्व विश्वनाथ प्रसाद जायसवाल शामिल हैं।

Check Also

knp_kanpur auter_697

कानपुर: सड़क हादसे में 26 लोगों की मौत का जिम्मेदार ट्रैक्टर चालक गिरफ्तार

कानपुर, 06 अक्टूबर(हि.स.)। साढ़ थाना क्षेत्र में 01 अक्टूबर को सड़क हादसे में 26 लोगों …