इस पेड़ का ऐसे करें इस्तेमाल, मोती की तरह चमक उठेंगे आपके दांत

अक्सर लोग अपने पीले और फीके पड़े दांतों की बात करते हैं और इस समस्या से घिरे रहते हैं लेकिन उन्हें सही इलाज नहीं मिल पाता है. इसके लिए कई वैज्ञानिकों ने खोज किए और उपाय भी निकाला लेकिन भारत के लोग आज भी देसी इलाज में ही विश्वास रखते हैं इसलिए उन चीजों का इस्तेमाल कम लोग ही करते हैं. अगर आप भी अपने दांतों का रंग सफेद करना चाहते हैं वो भी देसी इलाज से तो आपको इस चमत्कारिक पेड़ का कुछ ऐसे करें इस्तेमाल, इस पेड़ का नाम है पीपल, जिससे आप कई बीमारियों से लड़ सकते हैं.

वैसे तो जब पीपल के पेड़ का जिक्र होता है तो मन में भूत-पिशाच इस तरह के नाम घूमने लगते हैं लेकिन असल में ऐसा कुछ नहीं होता. भूत हमारा वहम होता है और वहम कोई भी इंसान पाल सकता है, इस वहम से बहुत से लोग बीमार भी पड़ जाते हैं. भारत में तो पीपल के पेड़ की पूजा की जाती है और इसका इस्तेमाल कई तरह की औषधीय बनाने के काम में भी लाते हैं. पीपल के पेड़ को आमतौर पर इसलिए भी जाना जाता है कि वो सभी पेड़ों से ज्यादा ऑक्सीजन देता है, लेकिन आपकी जानकारी के लिए हम आपको बताएंगे पीपल का पेड़ हमें ना सिर्फ ऑक्सीजन ही बल्कि बहुत कुछ देता है. पीपल के पेड़ को औषधि का खजाना माना गया है. इस पेड़ के अलग-अलग हिस्सों का इस्तेमाल कर कई तरह की बीमारी का इलाज करने के लिए उपयोगी होता है. तो आइए आपको बताते हैं पीपल के पेड़ के कुछ फायदे..

पीपल के पेड़ के इस्तेमाल से इन बीमारियों का होता है इलाज

  1. पीपल के पांच पत्तों को दूध में उबालकर चीनी या खांड डालकर दिन में दो बार, सुबह-शाम पीने से जुकाम, खांसी और दमा में जबरदस्त आराम होता है.
  2. आंखों के दर्द के लिए पत्तों से निकलने वाले दूध को आंखों में लगाने से आंख का दर्द ठीक हो जाता है.
  3. दांतों के लिए फायदेमंद मानी गई पीपल की ताजी दातून आपके दांतों के लिए बेहद अच्छी होती है और इससे आपके दांत मोती जैसे चमकते भी हैं. इसी के साथ ही पीपल के ताजे पत्तों का रस नाक में टपकाने से नकसीर में भी आराम मिलता है.
  4. पीपल का ये फायदा शायद ही किसी को पता होगा कि हाथ-पांव कटने-फटने पर पीपल के पत्तों का रस या दूध लगाएं. इससे फटने वाली जगह धीरे-धीरे भर जाएगी.
  5. पीपल की छाल को घिसकर लगाने से फोड़े-फुंसी और घाव और जलने से हुए घाव भी ठीक हो जाते हैं.
  6. अगर किसी व्यक्ति को सांप काट ले और कोई चिकित्सक वहां मौजूद न हो तो पीपल के पत्तों का रस 2-2 चम्मच 3-4 बार पिलाएं. सांप के काटने का असर कम हो जाएगा.
  7. अगर आपको भी बांझपन की समस्या है तो पीपल के फलों का चूर्ण लेने से बांझपन दूर होता है और पौरुषत्व में वृद्धि होती है.
  8. अगर आपको हकलाहट दूर करनी हो तो इसके पके हुए फलों के चूर्ण को शहद के साथ मिलाकर खाएं, इससे आपको हकलाहट फायदा मिलेगा और वाणी में सुधार होगा.

Check Also

लड़कियों की इन छुपी हुई बातों से हमेशा अनजान रहते हैं नादान लड़के, लव करने से पहले जान लें !!

लड़कियों को वैसे आज तक कौन समझ पाया है लेकिन आज हम आपको कुछ ऐसी …