वैवाहिक जीवन में नहीं रहती खुशहाली पति-पत्नी के बीच रहता है तनाव एक से अधिक शादी का देत है संकेत

नई दिल्ली: हस्तरेखा शास्त्र के मुताबिक विवाह रेखा पर बने निशान इंसान के जीवन के प्रभावित करते हैं. आमतौर पर विवाह रेखा का आगे की ओर बढ़ना शादीशुदा जिंदगी के बारे में बताता है. इसके अलावा यह वैवाहिक जीवन के सुखों के बारे में भी बताता है. विवाह रेखा पर बनने वाले निशान क्या संकेत देते हैं. इस बारे में जानते हैं.

-हस्तरेखा शास्त्र के मुताबिक अगर विवाह रेखा काला धब्बा अशुभ होता है. किसी भी इंसान की हथेली में विवाह रेखा पर बना यह निशान उसे लाइफ पार्टनर के सुखों से वंचित रखता है. विवाह रेखा अगर कनिष्ठा (सबसे छोटी) उंगली के दूसरे पोर पर जाती है तो ऐेसे में जातक अविवाहित ही रहता है.

-अगर विवाह रेखा पर कोई दूसरी रेखा आकर मिले या विवाह रेखा के मूल में कोई और रेखा मिले तो शादी के बाद अन्य संबंध के कारण इंसान का शादीशुदा लाइफ बर्बाद हो जाती है.

-हथेली में विवाह रेखा के साथ-साथ दो या इससे अधिक रेखाएं बने तो इंसान का अन्य स्त्रियों से भी संबंध रहता है. इसके अलावा एक से अधिक विवाह भी हो सकता है. अगर हथेली में दो विवाह रेखाएं नजर आए. साथ ही इनमें से एक गहरी और स्पष्ट जबकि दूसरी महीन और बुध पर्वत तक जाए तो ऐसे में इंसान की लाइफ में दो शादियों का योग बनता है.

-अगर हथेली की विवाह रेखा टूटी, हल्की या छोटी है तो ऐसे में व्यक्ति का वैवाहिक जीवन बहुत दिनों तक नहीं चल पाता. यदि चलता भी है तो शादीशुदा जिंदगी परेशानियों से भरी रहती है. वहीं अगर विवाह रेखा पर द्वीप का निशान बने तो विवाह में बिना कारण देरी होती है. वहीं अगर विवाह रेखा लालिमा लिए है तो वैवाहिक जीवन सुखमय होता है.

Check Also

मौनी अमावस्या पितृ दोष दूर करने के लिए है सबसे शुभ दिन, करें ये उपाय

 पितरों का आशीष पाने के लिए इस दिन तर्पण, पिंडदान, दान आदि करा जाता है. …