महिलाओं को वाणिज्यिक पायलट लाइसेंस जारी करने में 22 प्रतिशत की वृद्धि हुई है : वीके सिंह

नई दिल्ली, 5 फरवरी (हि.स.)। नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने सोमवार को दावा किया कि वर्ष 2023 में जारी किए गए वाणिज्यिक पायलट लाइसेंस (सीपीएल) की कुल संख्या 1622 है, जिनमें से 294 महिलाओं को जारी किए गए थे, जो जारी किए गए कुल सीपीएल का 18 प्रतिशत है।

राज्यसभा में एक लिखित उत्तर में नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री वीके सिंह ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि वर्ष 2022 (240 सीपीएल) की तुलना में वर्ष 2023 (294 सीपीएल) में महिलाओं को जारी सीपीएल की संख्या में 22 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।

नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री वीके सिंह ने कहा कि वर्तमान में विभिन्न भारतीय अनुसूचित और गैर-अनुसूचित ऑपरेटरों के साथ कार्यरत महिला पायलटों की कुल संख्या कुल उड़ान चालक दल की संख्या का लगभग 14 प्रतिशत है। उन्होंने कहा कि नागरिक उड्डयन मंत्रालय और उससे जुड़े संगठनों ने देश में महिला और पुरुष दोनों पायलटों की संख्या बढ़ाने के लिए कदम उठाए हैं।

इसके तहत पहले चरण में पांच हवाई अड्डों बेलगावी, जलगांव, कलबुर्गी, खजुराहो और लीलाबाड़ी में नौ नए उड़ान प्रशिक्षण संगठनों (एफटीओ) के लिए भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण द्वारा पुरस्कार पत्र जारी करना है । वहीं दूसरे चरण में भावनगर, बली, कडपा, किशनगढ़ और सेलम में पांच हवाई अड्डों पर छह और एफटीओ जारी करना शामिल है।