खतरा कम नहीं हुआ है, चीन की PLA ने दृढ़ता से निपटना जारी रखेंगे: आर्मी चीफ जनरल नरवणे

सेना प्रमुख जनरल एम. एम. नरवणे ने बुधवार को कहा कि भारतीय सेना पूर्वी लद्दाख में चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) के साथ दृढ़ता एवं मजबूत तरीके से निपटना जारी रखेगी और वह क्षेत्र में सर्वोच्च स्तर की अभियान संबंधी तैयारियां रख रही है। सेना दिवस से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में जनरल नरवणे ने कहा कि क्षेत्र में भले ही सैनिक आंशिक तौर पर हैं, लेकिन ‘खतरा किसी भी तरह से कम नहीं हुआ है। हमने सर्वोच्च स्तर की अभियान संबंधी तैयारियों को कायम रखा है, वहीं हम संवाद के जरिये भी चीन की PLA के साथ काम कर रहे हैं।’

‘चीन के साथ मजबूत तरीके से निपटते रहेंगे’

 

सेना प्रमुख ने यह भी कहा कि चीन के नये भूमि सीमा कानून के किसी भी सैन्य प्रभाव से निपटने के लिए भारतीय सेना मजबूती से तैयार है। उन्होंने कहा, ‘हम चीन की पीएलए के साथ दृढ़ता और मजबूत तरीके से निपटते रहेंगे।’ जनरल नरवणे ने कहा कि किसी भी आकस्मिक स्थिति से निपटने के लिए जरूरी सुरक्षा मानक अपनाये गये हैं। उन्होंने उत्तरी सीमाओं के पास अवसंरचना के उन्नयन एवं विकास का जिक्र करते हुए कहा कि यह काम समग्र और व्यापक तरीके से किया जा रहा है। जनरल नरवणे ने कहा कि यह देखने के लिए काफी प्रयास किए जा रहे हैं कि सभी दोहरे उपयोग वाले बुनियादी ढांचे कौन-कौन से हैं और उनका क्या उपयोग किया जा सकता है।

‘किसी भी चुनौती से निपटने के लिए तैयार हैं’
जनरल नरवणे ने कहा कि यथास्थिति को एकपक्षीय तरीके से बदलने के चीन के प्रयासों पर उनकी सेना की कार्रवाई बहुत त्वरित है। उन्होंने कहा, ‘हमारे सामने पैदा की जा रही किसी भी चुनौती से निपटने के लिए हम अच्छी तरह से तैयार हैं।’ बुधवार को चीन के साथ चल रही 14वें चरण की सैन्य वार्ता के बारे में पूछ जाने पर जनरल नरवणे ने कहा कि भारत को पेट्रोलिंग प्वाइंट 15 (हॉट स्प्रिंग्स) पर मुद्दों के समाधान की उम्मीद है। सेना प्रमुख ने कहा कि नगालैंड में 4 दिसंबर को हुई गोलीबारी की घटना के बारे में सेना की जांच रिपोर्ट एक या दो दिन में आ सकती है और उसके आधार पर उचित कार्रवाई की जाएगी।

Check Also

बिना वैक्सीन सर्टिफिकेट के बच्चों को स्कूल में नहीं मिलेगी एंट्री! कलेक्टर ने जारी किया आदेश

उज्जैनः बिना वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट के 15-18 साल के बच्चों को स्कूल में एंट्री नहीं मिलेगी. यह …