क्रिकेट एसोसिएशन के सचिव समेत सात लोगों पर लटकी गिरफ्तारी की तलवार

देहरादून, 24 जून (हि.स.)। क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड के सचिव महिम वर्मा इन दिनों विवादोंं में घिरे हुए हैं। क्रिकेट खिलाड़ियों के चयन तथा एक क्रिकेट खिलाड़ी को जान से मारने की धमकी और पैसों की मांग को लेकर यह विवाद पुलिस तक पहुंच गया है जिसमें महिम वर्मा समेत सात लोग शामिल हैं। इनकी गिरफ्तारी के लिए एसओजी गठित कर दी गई है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जन्मेजय खंडूरी द्वारा गठित टीम युवा क्रिकेटर आर्य सेठी तथा उनके पिता वीरेन्द्र सेठी को दी गई जान से मारने की धमकी और फिरौती मांगने के मामले में जांच करेगी। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने एसओजी गठित करने की बात स्वीकारी है तथा कहा है कि किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा।

क्रिकेटर आर्य सेठी के साथ की गई मारपीट और जान से मारने की धमकी को लेकर सात लोगों के विरुद्ध बसंत विहार थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है जिनमें सचिव महिम वर्मा के साथ सत्यम शर्मा, पियुष कुमार रघुवंशी, नवनीत मिश्र, संजय गुसाई, मनीष झा और पारूल के नाम शामिल हैं।

क्रिकेटर आर्य सेठी से इन लोगों ने कथित रूप से दस लाख रुपये की मांग की थी तथा मांग पूरी न होने पर कैरियर खत्म करने की धमकी दी थी जिसके कारण मामला पुलिस में पहुंच गया। वैसे भी उत्तराखंड क्रिकेट एसोसिएशन के पदाधिकारियों पर काफी समय से आरोपित की झड़ी लग रही है। इसके कारण क्रिकेट से जुड़े लोगों में नाराजगी है।

इस संदर्भ में उत्तराखंड क्रिकेट एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष हीरा सिंह बिष्ट का कहना है कि यह मामला निपटाया जाना चाहिए और इस तरह की कार्रवाई क्रिकेट को कमजोर करेगी।

बीते वर्ष दिसम्बर में इंदिरा नगर कालोनी निवासी क्रिकेटर आर्य के पिता वीरेन्द्र सेठी ने शिकायत दर्ज कराई थी कि उनका बेटा आर्य सेठी उत्तराखंड के सीनियर क्रिकेट टीम का सदस्य है। 11 दिसंबर 2021 को राजकोट में विजय हजारे ट्रॉफी में अभ्यास मैच के दौरान टीम के कोच मनीष झा ने आर्य सेठी की पिटाई कर दी। आर्य सेठी ने इसकी शिकायत सीएयू के सचिव महिम वर्मा से की जिसके बाद महिम वर्मा ने इस संबंध में टीम के मैनेजर नवनीत मिश्रा, कोच मनीष झा और वीडियो एनालिसिस पीयूष रघुवंशी से बात की। आरोप है कि इसके बाद तीनों ने आर्य सेठी को एक कमरे में बुलाया और उसे जान से मारने की धमकी दी। जब इस संबंध में आर्य ने सीएयू सचिव से बात की तो उन्होंने कहा कि मामला सुलझाने के लिए 10 लाख रुपए देने पड़ेंगे वरना आर्य सेठी का कैरियर बर्बाद कर देंगे। क्रिकेट एसोसिएशन के सचिव महिम वर्मा पहले भी कई विवादों में घिरे है। महंगे सेलक्टर लाने, खिलाड़ियों पर होने वाले खर्च को महंगे होटलों और यात्रा में खर्च करने, समेत कई आरोप उन पर लगते रहे हैं। लेकिन अब महिम वर्मा समेत सभी सात आरोपितों पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है

Check Also

एक मूर्ति लेकिन दो मंदिर! क्या है महाभारत काल के इस रहस्यमयी मंदिर का रहस्य?

मुंबई: भारत में कई तरह के मंदिर हैं. जिसकी अलग-अलग बनावट और विशेषताएं हैं। जो हमेशा लोगों को …