‘कैथी’ के हिंदी रीमेक ‘भोला’ की शूटिंग शुरू, अजय देवगन के अपॉजिट होंगी ये बड़ी एक्ट्रेस, जानें डिटेल्स

साल 2019 में रिलीज हुई तमिल फिल्म ‘कैथी’ (Kaithi Hindi Remake) के हिंदी रीमेक की शूटिंग शुरू हो गई है. फिल्म में अजय देवगन लीड रोल में हैं. कैथी के हिंदी रीमेक का नाम ‘भोला’ है. फिल्म में, अजय देवगन (AJay Devgn Bholaa) एक्टर कार्थी द्वारा निभाए गए किरदार को निभाएंगे. अजय देवगन के फिल्म में होने से लोगों के बीच एक्साइटमेंट बढ़ गई है. इसके फैंस ये भी जानने के लिए बेताब हैं कि इस फिल्म में अजय के अपॉजिट कौन-सी एक्ट्रेस होगी. हालांकि इसका खुलासा भी हो गया है.

रिपोर्ट के मुताबिक, ‘भोला’ में अजय देवगन (Ajay Devgn Tabu Film) के अपॉजिट तब्बू होंगी. फिल्म से जुड़े एक करीबी सूत्र ने खुलासा किया है, ”तब्बू को ‘कैथी’ के हिंदी रीमेक के लिए फाइनल कर लिया गया है.” अजय और तब्बू की जोड़ी पर्दे पर बेहतरीन मानी जाती रही है और उन्होंने काफी फिल्मों में साथ काम किया है. आखिरी बार दोनों फिल्म ‘दे दे प्यार दे’ में साथ नजर आए थे.

11 जनवरी को हुआ ‘भोला’ का मुहूर्त

रिपोर्ट के मुताबिक, ‘भोला’ के लिए अजय देवगन ने 11 जनवरी को मुहूर्त किया था. उसके बाद ही, उन्होंने फिल्म  के लिए शूटिंग की, लेकिन सिर्फ 56 मिनट (सुबह 7.44 से 8.35 बजे) तक. फिल्म के मुख्य एक्टर्स और और तकनीशियनों ने कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए कोविड-19 प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन किया. शूटिंग गोरेगांव (पश्चिम) में फिल्मिस्तान स्टूडियो में की गई थी.

‘भोला’ का डायरेक्शन अजय के चचेरे भाई कर रहे हैं

‘भोला’ का डायरेक्शन धर्मेंद्र शर्मा करे रहे हैं, जो अजय देवगन के चचेरे भाई हैं. फिल्म की सिनेमैटोग्राफी असीम बजाज करेंगे. अजय के एक अन्य चचेरे भाई विक्रांत के साथ धर्मेंद्र बुधवार को उनके साथ सबरीमाला मंदिर गए थे. केरल के सबरीमाला मंदिर में अजय ने उन सभी नियमों का पालन किया जो मंदिर में दर्शन के लिए मंदिर के बोर्ड ने तय किए हैं. यह नियम दर्शन करने वाले हर श्रद्धालु को अपनाने पड़ते हैं.

View this post on Instagram

A post shared by Ajay Devgn (@ajaydevgn)

सबरीमाला दर्शन करने से पहले अजय देवगन ने किए ये काम

बता दें कि सबरीमाला मंदिर में दर्शन करने से पहले किए खास तरह के रीतियों-नियमों का पालन करना पड़ता है. अजय 11 दिनों के लिए फर्श पर एक चट्टई पर सोते थे, काले कपड़े पहनते थे, दिन में दो बार अयप्पा पूजा करते थे, केवल शाकाहारी भोजन खाते थे बिना लहसुन या प्याज के, वह जहां भी जाते थे, नंगे पैर चलते था, किसी भी परफ्यूम का इस्तेमाल नहीं करता थे और न ही शराब पीते थे.

Check Also

‘बधाई दो’, ‘चंडीगढ़ करे आशिकी’ से लेकर ‘शुभ मंगल ज्यादा सावधान’  इन फिल्मों में दिखाई गई है समलैंगिक रिश्तों की 

साल 1996 में रिलीज हुई फिल्म फायर खूब विवादों में रही थी। नमिता दास और …