पैगाम ए महोबत है: प्रधानमंत्री मोदी से मिलने पहुंचे धर्मगुरु, बोले- ‘दुनिया को बता दें कि भारत एक है’

प्रधानमंत्री मोदी और उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ से मिलने आज विभिन्न धर्मों के नेता संसद भवन पहुंचे. पादरी संसद की कार्यवाही पर भी नजर रखेंगे. ऑल इंडिया इमाम ऑर्गेनाइजेशन के प्रमुख इमाम उगर अहमद इलियासी ने कहा, ‘पैसा है मुहब्बत, पैगाम है वतन.’ आज हम प्रधानमंत्री से मिलेंगे. सूद ने कहा कि भारतीय अल्पसंख्यक संगठन विभिन्न धार्मिक नेताओं के साथ संसद पहुंचा है. वे चाहते हैं कि दुनिया को पता चले कि भारत एक है।

 

 

इन्सानियत और मानवता है सबसे बड़ा धर्म

इमाम उबार अहमद इलियासी ने कहा कि, हम इंसानियत का पैगाम देना चाहते हैं और बताना चाहते हैं कि इंसानियत ही सबसे बड़ा धर्म है. हम भारत में रहते हैं और भारतीय हैं. हमें देश को मजबूत बनाना चाहिए. हम एकत्रित हैंं। महाबोधि इंटरनेशनल मेडिटेशन सेंटर के अध्यक्ष भीखू संघसेना ने कहा, ‘यह एक ऐतिहासिक क्षण है कि हम नए संसद भवन परिसर में आए हैं और पीएम मोदी के साथ बातचीत करेंगे। हम सभी को देश की समृद्धि के लिए मिलकर काम करना चाहिए।’

मौलवियों ने संसद परिसर में उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ से मुलाकात की. आज संसद में प्रधानमंत्री मोदी राष्ट्रपति के अभिभाषण पर पेश धन्यवाद प्रस्ताव का जवाब देंगे. शाम 5:00 बजे प्रधानमंत्री का संबोधन होगा. बीजेपी ने अपने सांसदों को व्हिप जारी कर सोमवार को संसद में उपस्थित रहने को कहा है.