महिला दरोगा ने की खुदकुशी, पति की मौत के बाद से थी डिप्रेशन में

पटनाः बिहार के बेगूसराय जिला के बरौनी थाना में कार्यरत महिला दरोगा ने अत्यधिक दवा खाकर आत्महत्या कर लिया। बरौनी थानाध्यक्ष का कहना है कि अपने पति रौशन की आत्महत्या के बाद प्रीति डिप्रेशन में थी तथा थाना नहीं आ रही थी। जानकारी मिलने के बाद सहकर्मियों में शोक है। मिली जानकारी के अनुसार प्रीति शर्मा (26) अपने मायके पटना के चौक थाना क्षेत्र के लाल इमली मोहल्ला में रह रही थी।

बताया जा रहा है कि बरौनी थाना में पदस्थापित 2018 बैच की दरोगा प्रीति शर्मा ने झारखंड निवासी रौशन सागर के साथ प्रेम विवाह किया था। शादी के बाद दोनों का दांपत्य जीवन सुखमय बीत रहा था। इसी बीच पुलिस भर्ती की तैयारी कर रही प्रीति जब दारोगा बन गई तो दोनों के बीच दूरी बढ़ने लगी तथा तनाव काफी बढ़ गया, दोनों के बीच विवाद होता रहता था। नौ दिसंबर को रौशन ने प्रीति को वीडियो कॉल किया, जिसमें दोनों के बीच काफी बहस हो गई। बहस के बाद वीडियो कॉल करते हुए रौशन ने राजीव नगर पटना स्थित अपने फ्लैट में आत्महत्या कर लिया था। जिसमें परिजनों ने आरोप लगाया कि प्रीति अपने पति से तलाक लेना चाहती थी।

 

इसलिए आत्महत्या से पहले रौशन ने वीडियो कॉल करके मरने की बातें कही, लेकिन प्रीति ने उसे रोकने की कोशिश नहीं की। पति को आत्महत्या से रोकने के बदले उसने मरने के लिए और बढ़ावा दिया। पति के आत्महत्या करने और उस पर उकसाने का आरोप लगने से मानसिक रूप से परेशान चल रही थी और पति की मौत के ठीक एक माह बाद उसने भी आत्महत्या कर लिया।

Check Also

27dl_m_407_27092022_1

हत्या या आत्महत्या में उलझी पुलिस ने पति को भेजा जेल

बेगूसराय, 27 सितम्बर (हि.स.)। बेगूसराय में जुआ खेलने और जमीन बेचने से रोके जाने पर …