बेहद खराब है टीम इंडिया के इन 3 खिलाड़ियों की किस्मत, बेंच पर ही कट गया पूरा साउथ अफ्रीका दौरा

 भारत और साउथ अफ्रीका के बीच तीन मैचों की टेस्ट सीरीज लगभग खत्म होने की कगार पर है. 3 भारतीय खिलाड़ी ऐसे हैं, जिनका पूरा साउथ अफ्रीका दौरा बेंच पर ही कट गया. इन 3 भारतीय खिलाड़ियों को एक भी टेस्ट मैच में टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन में शामिल करने लायक नहीं समझा गया. आइए एक नजर डालते हैं उन 3 खिलाड़ियों पर:

1. ईशांत शर्मा

साउथ अफ्रीका के खिलाफ पूरी टेस्ट सीरीज में सीनियर तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा को बाहर बैठना पड़ा है, जबकि उनकी जगह मोहम्मद सिराज और उमेश यादव को शामिल किया गया. सीनियर तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा ने अपने करियर की शुरुआत साल 2007 में बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट मैच से शुरू की थी और उसी के अगले महीने ईशांत को वनडे में डेब्यू करने का मौका मिला. ईशांत अब तक 80 वनडे मैच खेल चुके हैं, जिसमें वो 115 विकेट चटकाने में सफल रहे हालांकि टी20 क्रिकेट में शर्मा इतने सफल नहीं रहे. युवाओं के रहते जल्द बड़े फैसले लिए जा सकते हैं, जिसके लिए टीम इंडिया में अभी से ही तैयारी होने लगी है. ईशांत का वनडे करियर देखा जाए तो अच्छा कहा जा सकता है, लेकिन चयनकर्ताओं ने इन्हें 2016 से एक भी वनडे मैच में खेलने का मौका नहीं दिया है. टीम इंडिया में लगातार कॉम्पिटिशन बढ़ रहा है. सिराज और उमेश यादव जैसे गेंदबाज टेस्ट फॉर्मेट में अच्छा कर रहे हैं. ऐसे में टीम इंडिया से इशांत शर्मा का पत्ता कट सकता है. ईशांत 100 से अधिक टेस्ट खेल चुके हैं, जिसमें 311 विकेट अपने नाम कर चुके हैं.

2. ऋद्धिमान साहा

विकेटकीपर बल्लेबाज ऋद्धिमान साहा ने न्यूजीलैंड के खिलाफ विकेटकीपिंग और बैटिंग दोनों से ही प्रभावित किया था, लेकिन साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में उन्हें एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला. वहीं, दूसरी तरफ लगातार फ्लॉप होने वाले विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत को लगातार प्लेइंग इलेवन में मौके दिए गए. ऋद्धिमान साहा धोनी के टेस्ट क्रिकेट से रिटायर होने के बाद लगातार टीम में विकेटकीपर के तौर पर खेलते थे. लेकिन जैसे ही पंत ने टीम में अपनी जगह बनाई तभी से साहा को बहुत कम मौके मिल पाए हैं. अब साहा तभी टीम में फिर से दिख सकते हैं, जब पंत (Rishabh Pant) चोटिल होने के चलते बाहर हो जाएं. साहा इस वक्त 36 साल के हो चुके हैं और इस उम्र में काफी क्रिकेटर रिटायरमेंट लेने का मन बना लेते हैं.

3. जयंत यादव

भारतीय टीम के स्टार ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा और बेहतरीन फॉर्म में चल रहे अक्षर पटेल के साउथ अफ्रीका दौरे में बाहर होने के कारण जयंत यादव को भारतीय टीम में मौका मिला था, लेकिन यह मौका उन्हें मैदान पर नहीं मिला. जयंत यादव की जगह रविचंद्रन अश्विन को प्लेइंग इलेवन में शामिल किया गया. साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में उन्हें एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला, क्योंकि साउथ अफ्रीका में पिच स्पिन गेंदबाजों के अनुकूल नहीं होती और अश्विन के तौर पर टीम इंडिया में पहले ही एक स्पिनर प्लेइंग इलेवन के लिए फिट था.

Check Also

बड़ी खबर! क्रिकेट में फिर हुई बॉल टैंपरिंग, अंपायर ने टीम को दी सजा

मुंबई, 26 जनवरी: ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के बीच टेस्ट सीरीज में 4 साल पहले बॉल …