उजड़ा आशियाना छलका दर्द:पाई-पाई जोड़ कर बनाया गया आशियाना आंखों के सामने उजड़ता देख रोने लगीं महिलाएं, छोटे-छोटे मासूम बच्चों के चेहरे पर छाई रही मायूसी

 

ज्योति देवी - Dainik Bhaskar

ज्योति देवी

न्यू बंधु नगर में 100 से ज्यादा लोगों ने चरकू से जमीन खरीदी है, जिसमें 50 से अधिक लोगों का घर अतिक्रमण की जद में है, जिसे प्रशासन तोड़ रहा है। स्थानीय महिलाओं ने बताया कि चरकू ने एक करोड़ रुपए से भी अधिक में नदी की जमीन लोगों को बेच दी। मंगलवार को जब प्रशासन मकानों को तोड़ रहा था, तब अपने मकानों को गिरते देख वहां की महिलाएं रोने लगी। कई लोग अपने घरों की छत हटाने लगे। कुछ लोगों ने प्रशासन से सामान हटाने के लिए समय मांगा। हालांकि पहले दिन प्रशासन ने उन्हीं घरों को तोड़ा, जो पहले से खाली कर चुके थे।
पीड़ितों का दर्द…

आखिर अब जाएं तो जाएं कहां…

पहला मकान न्यू बंधु नगर में प्रशासन ने ज्योति देवी का गिराया। 297 वर्गफीट में मकान एसबेस्टस का बना हुआ था। ज्योति देवी ने कहा कि मकान बनाने में ढाई लाख रु खर्च हुए थे। जमीन केे 50 हजार रुपए दिए थे। आखिर अब जाएं तो जाएं कहां?

जमीन बेचनेवाले पर कार्रवाई नहीं

शर्मिला देवी घर भी टूटा। कहती हैं बिरसा चौक के चरकू ने नदी किनारे की पूरी जमीन बेची है। करोड़ों रुपए कमाए। कहा था कि मकान टूटेगा, तो पैसे वापस कर देगा। अब जब मकान टूट रहा है, तो वह गायब है। डोरंडा पुलिस उसपर कार्रवाई नहीं करती।

ये जिम्मेवार जिन्हें रोकना था वे बसाते चले गए

 

खबरें और भी हैं…

Check Also

रांची कोर्ट के वकील मनोज झा की जमीन पर कब्जे को लेकर हुई थी हत्या, 5 आरोपी गिरफ्तार

Ranchi: रांची सिविल कोर्ट के अधिवक्ता मनोज कुमार झा हत्याकांड का रांची पुलिस ने खुलासा कर …