पन्द्रह दिन बाद कब्र से निकाला गया युवक का शव

अररिया, 30 नवम्बर (हि.स.)। जिले में पलासी थाना क्षेत्र के गच्छ मियांपुर गांव में 14 नवम्बर को 18 साल के एक युवक का शव फंदे से लटका हुआ मिला था।खुदकुशी का बताकर शव को दफना दिया गया था,लेकिन मृतक की मां ने घटना के 13 दिन बाद 26 नवम्बर को एसपी अशोक कुमार सिंह के पास गुहार लगाकर चार लोगों पर हत्या का आरोप लगाते हुए न्याय की गुहार लगाई।इसके बाद एसपी के आदेश पर अंचलाधिकारी विवेक कुमार मिश्र की उपस्थिति में शव को 15 दिनों के बाद कब्रिस्तान से शव को बाहर निकाला गया और फोरेंसिक जांच के लिए भागलपुर जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेजा गया।

जिले के पलासी थाना क्षेत्र में बीते 14 नवम्बर को गच्छ मियांपुर वार्ड नंबर नौ में अठारह वर्षीय युवक परदेशी कुमार मांझी का फंदे से लटकता शव मिला था। उसके बाद मृतक की मां ने एसपी के समक्ष मामले में हत्या की आशंका जताते हुए न्याय की गुहार लगाई।जिसके बाद मृतक की मां मसनी देवी द्वारा एफआईआर दर्ज कराया गया। इस मामले में पलासी थाना क्षेत्र के गच्छ मियांपुर वार्ड नंबर 9 स्थित कब्रिस्तान से पंद्रह दिन पहले दफनाया गया परदेशी कुमार मांझी का क्षत-विक्षत शव को थानाध्यक्ष शिवपूजन कुमार और मैजिस्ट्रेट के रूप में तैनात अंचल अधिकारी विवेक कुमार मिश्र के समक्ष कब्र से निकाला गया।

एसडीपीओ पुष्कर कुमार ने बुधवार को बताया कि यह कार्रवाई अनुमंडल पदाधिकारी सुरेन्द्र कुमार अलबेला के निर्देश के आलोक में की गई है। बीते 14 नवम्बर को परदेशी कुमार मांझी का शव संदिग्ध स्थिति में फंदे से लटका हुआ पाया गया था। घटना के 15 दिन बाद मृत युवक की मां मसनी देवी ने चार लोगों पर हत्या करने के बाद लाश को फंदे से लटकाने का आरोप लगाते हुए एफआईआर दर्ज कराया। एसडीपीओ पुष्कर कुमार ने बताया कि शव को फोरेंसिक जांच के लिए भागलपुर जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज अस्पताल भेज दिया गया है। रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Check Also

एनएसएस के राष्ट्रीय कैंप के लिए जीडी कॉलेज के तीन स्वयंसेवक चयनित

बेगूसराय, 04 फरवरी (हि.स.)। ललित नारायण मिथिला यूनिवर्सिटी दरभंगा की अंगीभूत इकाई जी.डी. कॉलेज बेगूसराय …