कमलनाथ का तंज, विपक्ष में रहकर खेतों में जाने की सलाह देने वाले सीएम अब…

भोपालः मध्य प्रदेश में पिछले दिनों हुई बेमौसम बारिश के चलते फसलों को भारी नुकसान हुआ है। बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि से बर्बाद हुई फसलों ने किसानों के माथे पर चिंता की लकीरें खींच दी है। एक ओर सरकार जल्द ही नष्ट हुई फसलों का सर्वे कर किसानों को मुआवजा देने का आश्वासन दे रही है तो वहीं दूसरी ओर कांग्रेस सर्वे में गड़बड़ी और टालामटोली के आरोप लगा रही है। पूर्व सीएम कमलनाथ ने तो मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर तंज कसते हुए निशाना साधा है।

कमलनाथ ने बुधवार को ट्वीट कर कहा कि मध्यप्रदेश के कई जिलो में ओलवृष्टि और बेमौसम बारिश से किसानों की फसलें पूरी तरह से बर्बाद हो गयी है। चारों तरफ बर्बादी का मंजर है, किसान राहत व मुआवजे की माँग कर रहा है, खून के आंसू रो रहा है। कई हिस्सों में अभी तक सर्वे शुरू नही हुए है, कई जगह सर्वे में गड़बड़ी की शिकायतें सामने आ रही है। सरकार को किसानों को तात्कालिक सहायता देकर राहत प्रदान करना चाहिए, लेकिन कही फसल बीमा का आश्वासन दिया जा रहा है, कही सर्वे के नाम पर टालमटोली की जा रही है।

 

सीएम शिवराज पर तंज कसते हुए कमलनाथ ने कहा कि विपक्ष में रहकर खेतों में जाने की सलाह देने वाले मुख्यमंत्री और उनके मंत्री किसानों की सुध तक नहीं ले रहे हैं, अभी तक खेतों तक नही पहुँच पाये है। पिछली खराब फसलों का मुआवजा व बीमा की राशि अभी तक किसानों को नही मिली है तो इस बार का मुआवजा कब मिलेगा, यह बड़ा प्रश्न आज किसानों के सामने है? किसान पहले से ही खाद के संकट, बिजली के संकट से परेशान है और ऐसे में इस संकट ने किसानों की परेशानी को और बढ़ा दिया है।

Check Also

Farmers Suicide: महाराष्ट्र में 11 महीने में 2500 किसानों ने की आत्महत्या, RTI में खुलासा

Farmers Suicide cases: महाराष्ट्र में किसानों आत्महत्या एक बड़ा मामला है. इसे लेकर समय-समय पर …