जर्मन लड़की को नंगा घुमाने वाला आतंकी मारा गया, इजराइल ने चलाया ऑपरेशन

इजरायली सेना ने हमास के एक आतंकवादी को मार गिराया है, जिसने जर्मन टैटू कलाकार शनि लौक को निर्वस्त्र कर घुमाया था। हमास लड़ाकों द्वारा उनके साथ किया गया व्यवहार बद से भी बदतर था। 7 अक्टूबर के युद्ध के बाद हमास के आतंकवादियों ने उनका अपहरण कर लिया था। फिर वे उसे गाजा ले गए और उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया। इसके बाद उसे बुरी तरह पीटा गया.

 

 

 

इतना ही नहीं, उसे नंगा करके घुमाया गया और फिर उसका सिर कलम कर दिया गया। वहीं, अब इजरायली सेना ने उस लड़की की मौत का बदला लिया है. आईडीएफ ने हमास के एक आतंकवादी को मार गिराया है. लेखक, गायक और समाचार योगदानकर्ता ओली लंदन ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर यह दावा किया।

शनि लौक के शव को सड़कों पर घुमाया गया

आईडीएफ ने हमास के एक आतंकवादी को मार गिराया है जिसने गाजा की सड़कों पर शनि लौक के शव को घुमाया था। शनि की मां ने इस बारे में रब्बी शुमली (पत्रकार) को बताया कि उन्हें इस बात की जानकारी इजरायली सेना ने दी थी. आपको बता दें कि 22 साल के शनि लौक एक टैटू आर्टिस्ट थे. 7 अक्टूबर को हमास के आतंकियों ने नोवा म्यूजिक फेस्टिवल (इजराइल) से उनका अपहरण कर लिया था.

हमास के 20 से अधिक शीर्ष कमांडर मारे गए

इजराइल और हमास के बीच एक महीने से ज्यादा समय से युद्ध जारी है. युद्ध के इन दिनों में इजरायली सेना ने हमास के कई आतंकियों को मार गिराया. इसके अलावा, आईडीएफ ने अपने 20 से अधिक शीर्ष कमांडरों को मार डाला। करीब 43 दिनों से चल रही ये स्थिति अभी खत्म नहीं हुई है बल्कि अब और भी खतरनाक स्थिति में पहुंच गई है.

गाजा में 12 हजार से ज्यादा लोग मारे गये 

हमास के हमलों के जवाब में इजराइल ने भी गाजा पर भारी बमबारी की. इजराइल के हमले में गाजा में 12 हजार से ज्यादा लोग मारे गए हैं. इजरायली सेना ने गाजा के कई शहरों को खंडहर में तब्दील कर दिया है. गाजा के सबसे बड़े अस्पताल को लगातार निशाना बनाया जा रहा है. दावे किए जा रहे हैं कि यह अस्पताल हमास का मुख्यालय है. इस अस्पताल पर भी आईडीएफ ने कब्जा कर लिया है.