FATF की बैठक के बाद रिहा हो सकता है आतंकी हाफिज : सूत्र

पटना : बिहार की राजधानी पटना में पिछले साल हुए जल-जमाव के गंभीर मामले में प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई की है। उन्होंने बुडको के पूर्व एमडी अमरेन्द्र प्रताप सिंह सहित कई अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश पर नगर विकास एवं आवास विभाग ने संबंधित विभागों से इन सभी को निलंबित करते हुए विभागीय कार्रवाई करने की सिफारिश की है।

पटना को डुबाने के लिए दोषी पाए गए 1 आईएएस, 1 आईआरएस, 3 डिप्टी कलेक्टर, नगर सेवा के 1 अधिकारी, 14 इंजीनियरों सहित कुल 20 अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है। वहीं, संविदा पर बहाल 7 इंजीनियरों की सेवा समाप्त करने का निर्णय किया गया है। नगर विकास एवं आवास विभाग के सचिव आनंद किशोर ने कहा कि आईआरएस एवं पटना नगर निगम के पूर्व आयुक्त अनुपम कुमार सुमन केन्द्रीय प्रतिनियुक्ति पर हैं।

फिलहाल उनके वीआरएस का मामला भी विचाराधीन है। ऐसे में प्रदेश का सामान्य प्रशासन विभाग केन्द्र से उनपर अनुशासनिक कार्रवाई की अनुशंसा करेगा। आईएएस और बुडको के पूर्व एमडी अमरेन्द्र प्रसाद सिंह को सस्पेंड और विभागीय कार्रवाई के लिए सामान्य प्रशासन विभाग से अनुशंसा की गई हैं।

Check Also

बिहार इलेक्शन 2020 में तय हुई रेट लिस्ट : टोपी पहनाई तो जुड़ेंगे150 रुपये, जानें रसगुल्ला समोसे और चाय का क्या है दाम

बिहार विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान अगर प्रत्याशी ने किसी व्यक्ति को खादी की टोपी …