तेलंगाना: मंत्री केटी रामाराव ₹4,200 करोड़ विदेशी निवेश करवाएंगे

हैदराबाद: तेलंगाना में आईटी एवं उद्योग मंत्री के टी रामाराव की ब्रिटेन और स्विट्जरलैंड में दावोस की 10 दिवसीय यात्रा के दौरान 4,200 करोड़ रुपये से अधिक का निवेश आकर्षित किया गया. एक आधिकारिक विज्ञप्ति में शुक्रवार को यह जानकारी दी गई.

यात्रा के दौरान तेलंगाना प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व कर रहे मंत्री रामाराव ने कई बैठकों में भाग लिया, वैश्विक निगमों के शीर्ष अधिकारियों के साथ बातचीत की और विश्व आर्थिक मंच दावोस पैनल चर्चा में भाग लिया. विज्ञप्ति में कहा गया, ‘यात्रा का प्राथमिक उद्देश्य तेलंगाना को वैश्विक कंपनियों के लिए एक निवेश गंतव्य के रूप में प्रदर्शित करना और राज्य में निवेश लाना है और इस तरह तेलंगाना के युवाओं के लिए रोजगार के अधिक अवसर पैदा करना है.’

विश्व आर्थिक मंच (WEF) में तेलंगाना मंडप में ‘भारत दुनिया का स्वागत करता है, तेलंगाना फर्स्ट स्टॉप’ के नारे के साथ सबका स्वागत किया गया है जो बहुत ही आकर्षक रहा और बाकी हिस्सों से पूरी तरह से अलग था. औपचारिक व्यावसायिक बैठकों में भाग लेने के अलावा रामा राव ने पैनल चर्चा में भाग लिया. मंत्री ने प्रमुख समसामयिक मुद्दों की अपनी समझ से वैश्विक अधिकारियों के एक बड़े दर्शक वर्ग को प्रभावित किया.

इस बीच जर्मन ऑटो पार्ट्स निर्माता जेडएफ (ZF) हैदराबाद में अपने नवीनतम सुविधा केंद्र का उद्घाटन करने के लिए पूरी तरह तैयार है. विज्ञप्ति में कहा गया है कि लगभग 322 करोड़ रुपये की लागत से बने जेडएफ सुविधा केंद्र का उद्घाटन 1 जून को किया जाएगा. प्रस्तावित सुविधा केंद्र से लगभग 3,000 लोगों के लिए रोजगार के अवसर पैदा होंगे.

Check Also

मुंबई के चूनाभट्टी के संततधार में भूस्खलन में तीन लोग घायल हो गए

मुंबई: मुंबई के चूनाभट्टी इलाके में भूस्खलन: मुंबई में आज सुबह से ही भारी बारिश हो …