Telangana: रेप का किया विरोध तो जला दी 13 साल की बच्ची, अस्पताल में खत्म हुई जिंदगी

नई दिल्ली: तेलंगाना में पिछले महीने बलात्कार के प्रयास का विरोध करने पर 13 साल की एक आदिवासी लड़की को जला दिया था। जलने के बाद उसे गंभीर रूप से चोट आईं, अब गुरुवार रात को उसने दम तोड़ दिया। उसका लगभग एक महीने से हैदराबाद के एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा था। पुलिस के अनुसार, 13 वर्षीय आदिवासी लड़की तेलंगाना के खम्मम शहर में आरोपी के घर पर काम करती थी। 18 सितंबर को आरोपी ने उससे छेड़छाड़ करने का प्रयास किया और जब उसने विरोध किया, तो उस पर पेट्रोल डाला और उसे जला दिया। इससे वह 70 प्रतिशत जल गई थी।

तेलंगाना पुलिस के ध्यान में मामला तब आया जब गंभीर रूप से जल चुकी लड़की को इलाज के लिए हैदराबाद के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। घटना 18 सितंबर को हुई थी लेकिन पीड़िता को इलाज के लिए एक निजी अस्पताल में भर्ती किए जाने के बाद पुलिस को इसके बारे में 5 अक्टूबर को पता चला।

खम्मम के पुलिस आयुक्त तफसीर इकबाल ने शुक्रवार को पीटीआई-भाषा से कहा, ‘हैदराबाद के एक निजी अस्पताल में उपचार के दौरान बृहस्पतिवार रात को उसकी मौत हो गई। आरोपी के विरुद्ध भारतीय दंड संहिता की कुछ धाराएं लगाई गई थीं जिन्हें बदला जाएगा। मामले में धारा 307 (हत्या का प्रयास) को बदलकर अब धारा 302 (हत्या) लगाई जाएगी।’

तेलंगाना राज्य मानवाधिकार आयोग ने घटना के बारे में मीडिया में आई खबरों का स्वतः संज्ञान लिया और खम्मम पुलिस से इस बाबत रिपोर्ट तलब की।

Check Also

मन की बात में like से ज्यादा dislike मिले,देखे विडियो