राजद प्रमुख लालू यादव के बडे़ पुत्र तेज प्रताप ने खुद को बताया ‘सेकेंड लालू’, PM मोदी और सीएम नीतीश पर हमला

पटनाः बिहार विधानसभा के मॉनसून सत्र के दूसरे दिन आज जबर्दस्‍त हंगामा के बाद विपक्ष से सभी सदस्‍यों ने सदन का बहिष्‍कार कर दिया. इस दौरान राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के बडे़ बेटे तेज प्रताप यादव ने खुद को दूसरा लालू घोषित कर दिया.

वैसे भी तेज प्रताप हमेशा मीडिया की सुर्खियों में रहते हैं. वहीं, सभी विपक्षी दलों के विधायक सदन से बाहर निकल गए। इसके बाद विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव ने विधानसभा अध्‍यक्ष को मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार की कठपुतली करार दिया. तेजस्वी ने कहा कि जबतक बिहार विधानसभा के बजट सत्र के दौरान विपक्ष के विधायकों की पिटाई के मामले पर सदन में चर्चा व दोषियों पर कार्रवाई नहीं होती.

वे सदन का बहिष्‍कार करेंगे. सदन के बाहर तेजस्‍वी यादव ने मीडिया से कहा कि सोमवार को विपक्ष ने विधानसभा अध्‍यक्ष से आग्रह किया था कि बीते 23 मार्च के काले दिन विधानसभा में विधायकों की पिटाई के मामले पर सदन में चर्चा होनी चाहिए. इसका आग्रह लिखित में भी दिया. इसके बाद मंगलवार को आज जब यह प्रस्‍ताव रखना चाहा, तब रोक दिया गया.

विधानसभा अध्‍यक्ष ने अनौपचारिक तौर पर अपनी बात रखने को तो कहा, लेकिन चर्चा की अनुमति नहीं दी. इतने बडे़ मुद्दे पर नेता प्रतिपक्ष की बात नहीं मानी गई. अनौपचारिक तौर पर अपनी बात रखने का कोई मतलब नहीं था. वहीं, तेजस्‍वी के बडे़ भाई तेज प्रताप को उनके अलग अंदाज के कारण जाना जाता है. उन्‍होंने अपना नया फेसबुक पेज बनवाया है.

खास बात यह है कि इस पेज को ‘सेकंड लालू तेज प्रताप यादव’ नाम दिया गया है. इस पेज के जरिये ‘लालू के लाल’ ने अपनी सियासी सक्रियता बढ़ा दी है. इस फेसबुक पेज के जरिये तेजप्रताप अपने समर्थकों से लाइव रूबरू हुए और उनके सवालों के जवाब दिए. उन्‍होंने इस दौरान कोरोना महामारी, बेरोजगारी, अस्‍पताल और शिक्षा जैसे मुद्दों पर बातचीत की.

उन्‍होंने इस दौरान खुद का परिचय ‘सेकंड लालू तेज प्रताप’ के रूप में ही दिया है. तेज प्रताप ने इस मौके पर श्रावन मास की धर्मावलंबियों को शुभकामनाएं दीं. उन्‍होंने कहा-आपकी जो भी समस्‍या हो, कुछ आपको प्रॉब्‍लम हो रही हो, आप हमारे साथ जुड़िए, हम उसका समाधान करने की कोशिश करेंगे. उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सरकार को घेरा.

विधानसभा में विधायकों के साथ कथित दुर्व्‍यवहार के मामले में भी उन्‍होंने नीतीश कुमार पर निशाना साधा और कई गंभीर आरोप लगाए. उन्‍होंने कहा कि हमारे पिता को भी दबाने का, जेल भेजने का काम किया गया. हमारे खिलाफ सीबीआई, ईडी को लगाया गया. हमारे पिता ने देश के पिछड़े वर्ग के लिए संघर्ष किया और आज भी वही कर रहे हैं.

तेज प्रताप ने कहा, ‘मैं वादा करता हूं कि हम इनकी सरकार को गिराकर रहेंगे. हम चुप बैठने वालों में से नहीं हैं. आप हमसे जुडे़, इसके लिए आप सबका शुक्रिया अदा करता हूं.’ उन्‍होंने वादा किया कि वे आगे भी इस पेज पर लाइव आते रहेंगे और चाहने वालों के साथ जुडते रहेंगे. यहां बता दें कि तेज प्रताप का अपना अंदाज भी निराला है.

उन्‍हें बिहार दौरे के दौरान कभी मिठाई की दुकान पर जलेबियां बनाते हुए देखा गया है तो कभी भगवान श्रीकृष्‍ण का रूप धरकर बांसुरी बजाते हुए. कभी शंकर भगवान के वेश में फोटो सेशन भी कराते देखे जाते हैं. वहीं मथुरा जाकर वहां पूजा-पाठ करने की भी बातें सामने आती रहती हैं.

Check Also

JDU में सिर्फ नीतीश, पावर सेंटर पर फुल स्टॉप:ललन ने गुटबाज नेताओं को दी हिदायत, पार्टी एक, नेता एक; JDU हर गांव में बनाएगा 10-10 एक्टिव मेंबर

  ललन सिंह, राष्ट्रीय अध्यक्ष, जदयू। अब JDU में नीतीश कुमार के अलावा कोई पावर …