Swara Bhaskar ने जिसके लिए भी ने किया प्रचार, सबको देखना पड़ा हार का मुंह, लोगों ने किया ट्रोल

नयी दिल्ली. भारतीय जनता पार्टी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अगुवायी में विपक्ष के चक्रव्यूह को तोड़ते हुए लोकसभा चुनाव में 300 से अधिक सीटें हासिल कर एक बार फिर इतिहास रच दिया और देश के पश्चिम तथा उत्तरी भाग में ही नहीं बल्कि पूर्वी हिस्से में भी विरोधियों के पैर उखाड़ कर परचम लहरा दिया।

मोदी की चुनावी सुनामी पर सवार भाजपा लोकसभा में लगातार दूसरी बार पूर्ण बहुमत हासिल करने वाली पार्टी बन गयी है। ऐसा करने वाली वह कांग्रेस के बाद दूसरी पार्टी है। ‘मोदी सुनामी’ के चलते दक्षिण के तीन राज्यों को छोड़कर पूरा देश मोदीमय हो गया। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी की हार स्वीकार करते हुए प्रधानमंत्री श्री मोदी को भाजपा की शानदार जीत के लिए बधाई दी है। कई देशों के नेताओं ने भी उन्हें परिणाम पूरी तरह घोषित होने से पहले ही बधाई दे दी।

इस बीच बताते चले PM मोदी की इस प्रचंड जीत के बाद  बाद लोगों ने बॉलीवुड एक्ट्रेस स्वरा भास्कर को जमकर ट्रोल किया है। दरअसल इस साल चुनाव प्रचार में स्वरा भास्कर काफी एक्टिव नजर आई थीं। उन्होंने विपक्ष का हाथ थामते हुए केंद्र सरकार की नीतियों पर जमकर हमला बोला था। इस दौरान उन्होंने विपक्ष के छह प्रत्याशियों के लिए प्रचार किया था। इनमें से सभी प्रत्याशी हार गए हैं। इसके बाद लोगों ने स्वरा को खूब ट्रोल किया है। स्वरा ने भी ट्रोल का जवाब दिया है।

 

ट्विटर को यूजर्स ने एक्ट्रेस स्वरा का जमकर मजाक उड़ाते हुए कहा कि वह सभी के लिए पनौती साबित हुईं। इससे अच्छा होता कि वह किसी के लिए वोट अपील नहीं करतीं। ट्रोल होने के बाद स्वरा भास्कर ने भी ट्रोलर्स पर हमला बोला है। ट्रोलर्स का जवाब देते हुए स्वरा ने अपने सोशल मीडिया हैंडल ट्विटर पर लिखा, 2019 के लोकसभा चुनाव केवल इस बात पर हुए कि आखिर स्वरा भास्कर किसके लिए कैंपेन कर रहीं हैं!!!! और हां वो 6 केंडिडेट थे… कम से कम किसी को ट्रोल करने से पहले अपने फैक्ट्स तो चेक कर लेते।

 

स्वरा ने पूर्वी दिल्ली से आम आदमी पार्टी (AAP) कैंडिडेट आतिशी मार्लेना, भोपाल से कांग्रेस प्रत्याशी और दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह, CPM उम्मीदवार अमरा राम, बेगुसराय सीट से CPI उम्मीदवार कन्हैया कुमार, AAP नेता राघव चड्ढा और दिलीप पांडेय के लिए चुनाव प्रचार किया था। इनमें से सभी के सभी नेता चुनाव हार गए हैं। आतिशी मार्लेना करीब 3 लाख वोटों से हारीं हैं। वहीं दिग्विजय सिंह 2 लाख वोटों से हारे हैं। अमरा राम को 7 लाख वोटों से हार मिली है, जबकि लेफ्ट प्रत्याशी कन्हैया कुमार को करीब 4 लाख वोटों से हार मिली है। राघव चड्ढा 3 लाख और दिलीप पांडेय 5 लाख वोटों से हार गए हैं।

Check Also

9/11 के हमले के बाद डिप्रेशन में चले गए थे ‘बुर्ज खलीफा’ के सिंगर डीजे खुशी, उबरने के लिए पार्टियां करने लगे और 20 घंटे की ट्रेनिंग में डीजे बन गए

अपकमिंग फिल्म ‘लक्ष्मी बॉम्ब’ का सॉन्ग बुर्ज खलीफा इन दिनों ट्रेंड में हैं। अक्षय कुमार …