स्टॉक मार्केट टुडे: फेड रिजर्व रेट में बढ़ोतरी के बाद भारतीय शेयर बाजार गिरा, सेंसेक्स 420 अंक गिरा, निफ्टी 17600 के आसपास खुला

89ea4e6b45c2384f54b4aa3555d996861661164622308394_original

Stock Market Today: अमेरिकी फेडरल रिजर्व की ब्याज दर में बढ़ोतरी के चलते दुनियाभर के शेयर बाजारों में गिरावट देखने को मिल रही है. इसका असर भारतीय शेयर बाजार पर भी देखने को मिल रहा है. भारतीय बाजारों की शुरुआत आज कमजोरी के साथ हुई। सेंसेक्स 445.37 अंक या 0.75 प्रतिशत की गिरावट के साथ 59,011.41 पर था, जबकि निफ्टी 85.75 अंक या 0.48 प्रतिशत नीचे 17621.25 पर था।

आज के कारोबारी सत्र में ऑटो, एफएमसीजी मेटल्स मीडिया, सेक्टर को छोड़कर सभी सेक्टरों में बिकवाली देखने को मिल रही है. बाजार में गिरावट के बावजूद स्मॉलकैप और मिडकैप शेयरों में तेजी देखने को मिल रही है. वहीं बैंकिंग, आईटी, तेल और गैस क्षेत्र, कंज्यूमर ड्यूरेबल्स के शेयरों में भी गिरावट देखने को मिल रही है। निफ्टी के 50 शेयरों में से सिर्फ 19 शेयरों ने सुबह हरे रंग में कारोबार करना शुरू किया, जबकि 31 शेयरों में गिरावट देखी गई। सेंसेक्स के 30 शेयरों में से सिर्फ 11 शेयर हरे रंग में और 19 शेयर लाल रंग में खुले।

आज के कारोबार में जो शेयर चढ़े हैं उन पर नजर डालें तो आईटीसी 0.86 फीसदी, मारुति सुजुकी 0.55 फीसदी, बजाज फाइनेंस 0.54 फीसदी, एचयूएल 0.41 फीसदी, एनटीपीसी 0.24 फीसदी, अल्ट्राटेक सीमेंट 0.13 फीसदी, इंडसइंड बैंक 0.07 फीसदी की बढ़त के साथ कारोबार कर रहा है. .

गिरावट वाले शेयरों में एचडीएफसी 1.59 फीसदी, टेक महिंद्रा 1.34 फीसदी, विप्रो 1.30 फीसदी, बजाज फिनसर्व 1.22 फीसदी, एचसीएल टेक 1.03 फीसदी, एचडीएफसी बैंक 0.95 फीसदी, इंफोसिस 0.88 फीसदी रहा, जिससे कारोबार में गिरावट आई।

 

वैश्विक बाजार में तोड़ो

प्रमुख एशियाई बाजारों में कारोबार आज सुस्त रहा। वहीं, इससे पहले अमेरिकी बाजार भी भारी गिरावट के साथ बंद हुए थे। यूएस फेड ने एक बार फिर ब्याज दरों में 75 बेसिस प्वाइंट की बढ़ोतरी की है। वहीं, दरों में बढ़ोतरी जारी रहने के संकेत दिए गए हैं। बुधवार को डाउ जोंस 522.45 अंक टूटकर 30,183.78 पर बंद हुआ था। एसएंडपी 500 इंडेक्स 1.71 फीसदी की गिरावट के साथ 3,789.93 पर बंद हुआ। जबकि नैस्डैक 1.79 फीसदी की गिरावट के साथ महज 11,220.19 पर बंद हुआ।

यूएस फेड ने मुद्रास्फीति पर अंकुश लगाने के लिए दरों में बढ़ोतरी जारी रखने का संकेत दिया है। अमेरिका में ब्याज दरें अगले साल तक बढ़कर 4.4 फीसदी होने की उम्मीद है। फेड का अनुमान है कि इसकी टर्मिनल दर 4.6 प्रतिशत तक पहुंच जाएगी।

क्रूड में नरमी जारी है और यह गिरकर 90 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया है। वहीं अमेरिकी क्रूड भी 83 से 84 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार कर रहा है। अमेरिका में 10 साल की बॉन्ड यील्ड 3.548 फीसदी है।

एशियाई बाजारों के लिए, एसजीएक्स निफ्टी 0.70 प्रतिशत और निक्केई 225 0.67 प्रतिशत बढ़ा। स्ट्रेट टाइम्स में 0.32 फीसदी की कमजोरी है, जबकि हैंग सेंग में 1.320 फीसदी की कमजोरी देखी जा रही है। ताइवान का वजन 1.54 फीसदी और कोस्पी 1.13 फीसदी कमजोर रहा। शंघाई कंपोजिट सपाट कारोबार कर रहा है।

Check Also

27_09_2022-27_09_2022-guatm_adani_9140136

गौतम अडानी ने कहा, चीन बहुत जल्द दुनिया से अलग-थलग पड़ जाएगा, भारत के पास अपार संभावनाएं

भारतीय उद्योगपति और दुनिया के दूसरे सबसे अमीर व्यक्ति गौतम अडानी ने कहा है कि …