अगर आप इस उपाय से अपने कमर दर्द को ठीक कर सकते हैं तो इस घरेलू उपाय को आजमाएं

कमर दर्द, जो आज लोगों के लिए बहुत आम है, लेकिन यह कोई समस्या नहीं है क्योंकि अगर यह नियंत्रण से बाहर हो जाए तो उठना भी मुश्किल हो जाता है। लेकिन सवाल यह है कि पहले यह समस्या बूढ़े लोगों में होती थी।

लेकिन अब युवा इसके प्रति अधिक संवेदनशील हैं, तो हम आपको बता दें कि इस समस्या का कारण हमारी खराब जीवनशैली है। आपके उठने बैठने के तरीके, सोने के तरीके से आपको यह समस्या हो सकती है, वहीं कई बार कोई चोट भी इस दर्द का कारण बन जाती है।

आइए आपको बताते हैं उन कारणों के बारे में…

1. गलत मुद्रा, लंबे समय तक बैठे रहना
2. मांसपेशियों पर अत्यधिक दबाव
3. वजन बढ़ना
4. लंबे समय तक किसी बीमारी का कारण


5. कैल्शियम की कमी से हड्डियां कमजोर होती हैं
6. नर्म गद्दे पर
सोना 7. नींद की कमी.
8. ज्यादा तनाव लेना… दरअसल ज्यादा तनाव लेने से दिमाग के साथ-साथ नर्वस सिस्टम पर भी असर पड़ता है जिससे रीढ़ में दर्द हो सकता है।
9. अगर आप कब्ज से पीड़ित हैं तो भी आपको इस दर्द का अनुभव हो सकता है।

अब जानिए आपको क्या करना है…

– सबसे पहले अपने खड़े होने और बैठने के पोस्चर को ठीक रखें। कमर झुकाकर न बैठें। लेकिन लगातार एक ही जगह बैठने से बचें।
आप जो भी करें, अक्सर किसी अनुभवी व्यक्ति से पूछकर ही करें, क्योंकि कभी-कभी गलत पोजीशन में एक्सरसाइज करने से भी यह समस्या हो सकती है।
– योग में भुजंगासन, शलभासन, हलासन, उत्तरापादासन जरूर करें क्योंकि इससे कमर दर्द में बहुत फायदा होता है। योग शिक्षक की देखरेख में कमर दर्द के व्यायाम करें। गलत पॉश्चर समस्या को कम करने के बजाय बढ़ा सकता है।
– मुलायम गद्दों पर सोने से बचें।
-कैल्शियम की कम मात्रा भी हड्डियों को कमजोर कर सकती है, इसलिए कैल्शियम युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करें।

जानें घरेलू नुस्खे


तमल पत्र का काढ़ा

पान के पत्तों से बना काढ़ा आपको इस दर्द से निजात दिलाएगा। 10 ग्राम अजवायन, 5 ग्राम सौंफ और 10 ग्राम तेजपत्ता को एक साथ पीसकर एक लीटर पानी में उबालें। काफी देर तक उबलने के बाद जब यह पानी 100-150 ग्राम रह जाए तो इसे आंच से उतार लें और ठंडा होने दें। इस काढ़े को ठंडा होने के बाद पीएं। इस काढ़े का सेवन करने से एक घंटे में ही आपको कमर दर्द में तुरंत आराम मिल जाएगा।

सरसों या नारियल का तेल

लहसुन की तीन से चार कलियों को सरसों या नारियल के तेल में गर्म करें। इस हल्के तेल से पीठ की मालिश करें।

गर्म पानी से कुल्ला करें

नमक मिलाकर गरम पानी में डालें। अब तली पर तौलिया रख दें और जो भाप लें, उससे आपको फायदा हो।

व्यायाम

कमर दर्द के लिए व्यायाम भी करना चाहिए। टहलना, जॉगिंग या साइकिल चलाना है फायदेमंद.. स्विमिंग से जहां वजन कम होता है वहीं कमर के लिए भी यह फायदेमंद है। साइकिल चलाते समय कमर सीधी रखनी चाहिए।

Check Also

Low Fat Diet: लो फैट डाइट हाई ब्लड प्रेशर की समस्या को कंट्रोल रखती है में

लो-फैट डाइट: लगातार हाई बीपी दिल की बीमारी का संकेत हो सकता है. इससे बचने के …