कोरोना वायरस मैन मेड; वुहान लैब के पूर्व वैज्ञानिक का चौंकाने वाला खुलासा

वुहान लैब: पिछले दो साल से दुनिया को संकट में डालने वाले कोविड-19 का प्रकोप एक बार फिर देखने को मिल रहा है. चीन (चीन) के कुछ हिस्सों में कोरोना मरीजों की बढ़ती संख्या के कारण लॉकडाउन जैसी स्थिति पैदा हो गई है। यह बात सामने आई है कि चीन सरकार लोगों पर बड़े पैमाने पर प्रतिबंध लगा रही है। हालांकि अभी तक इस बात का पता नहीं चल पाया है कि कोरोना वायरस की उत्पत्ति कहां से हुई। हालांकि, चीन में सबसे पहले पता लगाए गए कोरोना वायरस की उत्पत्ति के प्रमाण अभी तक दुनिया के सामने नहीं आए हैं। अमेरिका समेत कई देशों ने लगातार चीन पर इस वायरस को बनाने का आरोप लगाया है। लेकिन चीन ने हमेशा इस दावे को खारिज किया है। अब दूसरी तरफ चीन के वुहान की एक लैब में काम करने वाले एक अमेरिकी वैज्ञानिक ने चौंकाने वाला खुलासा किया है।

कोविड-19 मानव निर्मित वायरस है 

अमेरिका ने दावा किया था कि यह वायरस चीन की वुहान प्रयोगशाला (Wuhan Laboratory China) से लीक हुआ और फैला। उसके बाद इस वैज्ञानिक के किए गए दावे ने एक नया विवाद खड़ा कर दिया है. इस वैज्ञानिक ने दावा किया है कि कोविड-19 एक मानव निर्मित वायरस था जो एक प्रयोगशाला से लीक हुआ था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक वैज्ञानिक एंड्रयू हफ ने कहा, ‘कोरोना वायरस दो साल पहले वुहान इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (डब्ल्यूआईबी) से निकला था. चीनी सरकार वुहान इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी में शोध के लिए धन देती है।’

 

‘द ट्रुथ अबाउट वुहान’ किताब में एंड्रयू हफ ने कहा है कि यह महामारी अमेरिकी सरकार द्वारा चीन में कोरोना वायरस के निर्माण को वित्तपोषित करने के कारण हुई है। हफ की किताब का एक हिस्सा द सन द्वारा प्रकाशित किया गया था। 

कैसे निकला वायरस?

कार्य के लाभ के साथ प्रयोग करते समय चीन ने उचित ध्यान नहीं दिया। इसलिए वायरस वुहान लैब से लीक हुआ था। कोरोना की शुरुआत से ही ये दावा किया जाने लगा था कि ये वायरस वुहान लैब से ही निकला है. दावे को बाद में चीनी सरकार, अधिकारियों और कर्मचारियों ने खारिज कर दिया था। एंड्रयू हफ का दावा है, “प्रयोगशालाओं में पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था नहीं थी। यही कारण है कि वायरस वुहान इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी में लीक हो गया।”

Check Also

US-India: चीन हो या तुर्की, आंख नहीं उठा सकते, दुनिया में पिटेगा भारत

US-India Vs China: भारत और अमेरिका के बीच एक बड़ी रक्षा डील हुई है. माना जा रहा …