Shiv Sena की युवा सेना का पेट्रोल-डीजल के कीमतों पर Poster War, केंद्र से पूछा-क्या यही हैं अच्छे दिन?

देश में पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के बहाने शिवसेना की युवा सेना (Yuva sena) ने केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) पर निशाना साधा है. युवा सेना ने मुंबई में कई पेट्रोल पम्प पर पोस्टर्स लगाकर 2015 और 2021 के पेट्रोल-डीजल के दाम की तुलना की.

मुंबई के बांद्रा इलाके में लगाए गए पोस्टरों में शिवसेना की युवा सेना ने केंद्र सरकार से पूछा कि, 2015 में पेट्रोल के दाम 64.60 रुपए थे जबकि 2021 में यह 96.62 रुपए प्रति लीटर हो गए, क्या यही हैं अच्छे दिन? मुंबई में डीजल और LPG गैैस के दामों के बदलाव को भी पोस्टर में दिखाया गया है. पोस्टर में सबसे ऊपर लिखा गया है,’यही हैंं अच्छे दिन?’ मुंबई में आज पेट्रोल 97 रुपए में बिक रहा है.

 

विपक्षी पार्टियां लगातार कर रही विरोध प्रदर्शन

देश में पेट्रोल-डीजल और रसोई गैस के बढ़ते दामों को देखते हुए सभी विपक्षी पार्टियां लगातार विरोध प्रदर्शन कर रही हैं. इन दिनों मुंबई में पेट्रोल 97.00 रुपए प्रति लीटर जबकि डीजल 88.06 रुपए प्रति लीटर बिक रहा है. शिवसेना इसी का विरोध कर रही है. इससे पहले भी शिवसेना और कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने महाराष्ट्र के अलग-अलग शहरों में ईधन के बढ़े दाम को लेकर प्रदर्शन किया था.

इसके पहले शिवसेना नेताओं ने बैलगाड़ी मोर्चा निकालकर केंद्र सरकार का विरोध किया  था. बैलगाड़ी पर गैस सिलेंडर को ले जाकर इस विरोध प्रदर्शन को अंजाम दिया गया था. हर स्तर पर विरोध होने के बावजूद पेट्रोल डीजल कीमतों में कोई कमी नहीं आ रही है. पेट्रोल-डीजल और LPG यह लोगों की रोजमर्रा जरुरत की चीज है. देश में ज्यादातर सब्जियां, दूध, राशन ट्रक के जरिए आती है. ऐसे में डीजल की कीमतें बढ़ने से बाकि सभी चीजों की भी कीमतें बढ़ती जा रही है. जिसका सीधा असर आम आदमी की जेब पर पड़ रहा है. इन सब के बावजूद इस मुद्दे पर हर स्तर से केवल राजनीति हो रही है.

Check Also

RJIO जल्द ही लांच करेगा 5G सर्विस, खरीदा 57 हजार करोड़ का स्पेक्ट्रम

अब टेलीकॉम कंपनियों में 5G लांच की होड़ लगी है। रिलायंस जियो ने सभी 22 …