Shardiya Navratri 2022:शारदीय नवरात्रि के लिए यह दुर्लभ योग, घटस्थापना के लिए अत्यंत शुभ योग

523782-devi

दुर्गा पूजा 2022: शारदीय नवरात्रि सभी पितृ अमावस्या के दूसरे दिन से शुरू हो रही है. इस साल शारदीय नवरात्रि 26 सितंबर से शुरू होगी और उसके बाद 5 अक्टूबर को दशहरा या विजयदशमी का त्योहार होगा। मां दुर्गा की आराधना का यह 9 दिवसीय पर्व इस वर्ष बहुत शुभ प्रारंभ हो रहा है। इस शुभ अवसर पर घटस्थान लोगों के जीवन में सुख-समृद्धि लाता है। गुजरात, मध्य प्रदेश, पंजाब-हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल समेत कई राज्यों में शारदीय नवरात्रि और दुर्गा पूजा बड़ी धूमधाम से मनाई जाती है। 

नवरात्रि का बहुत ही शुभ योग 

26 सितंबर 2022 से शुरू हो रहे शारदीय नवरात्रि के पहले दिन घटस्थापना के लिए पूरा दिन बेहद शुभ रहेगा. इस बीच शुक्ल और ब्रह्म योग का अद्भुत संगम बन रहा है। जो पूजा और शुभ योगों के लिए बहुत ही शुभ माना जाता है। इसके बाद सोमवार 3 अक्टूबर को महाष्टमी व्रत व पूजन होगा. दुर्गा पूजा के लिए अष्टमी-नवमी तिथि को संध्या पूजा मुहूर्त दोपहर 3:36 से 4:24 बजे तक रहेगा. वहीं महानवमी तिथि का मूल्य मंगलवार, 4 अक्टूबर को रहेगा. नवमी तिथि दोपहर 01.32 बजे तक रहेगी। इसके बाद दशमी तिथि शुरू होगी। इसलिए विजयदशमी या दशहरा का त्योहार 4 और 5 अक्टूबर को मनाया जाएगा। इस दिन दुर्गा प्रतिमाओं का विसर्जन किया जाता है। रावण का अंतिम संस्कार किया जाता है और हथियारों और वाहनों की पूजा की जाती है।

हाथी पर विराजमान मां दुर्गा

इस बार आश्विन मास में नवरात्रि में मां दुर्गा हाथी पर सवार होकर आ रही हैं। चूंकि मां दुर्गा की हाथी की सवारी को शुभ माना जाता है, इसलिए यह भारी बारिश का भी सूचक है। माता दुर्गा की हाथी की सवारी कृषि और फसलों के लिए शुभ मानी जाती है। इसका उपयोग पैसे और अनाज के स्टॉक को भरने के लिए किया जाता है। 

 

 

Check Also

Karwa-Chauth-2022-Date-Confusion-October-13-or-14-When-to-Celebrate-And-Fast-For-Karva-Chauth-Check-Moon-Sighting-Timings

करवा चौथ 2022 तारीख भ्रम: 13 या 14 अक्टूबर – कब मनाएं और करवा चौथ का व्रत करें? चांद दिखने का समय जांचें

करवा चौथ 2022: करवा चौथ हिंदू और पंजाबी समुदायों में विवाहित महिलाओं द्वारा मनाया जाने वाला …