शनि दोष: शनि दोष के कारण जीवन में आते हैं ऐसे संकट, जानिए शनि दोष दूर करने के उपाय

शनि दोष उपाय: ज्योतिष शास्त्र के अनुसार शनि एक बहुत ही महत्वपूर्ण ग्रह है। शनि व्यक्ति को उसके कर्म के अनुसार फल देते हैं। यदि कुंडली में शनि की स्थिति अनुकूल नहीं है तो व्यक्ति को जीवन में कई संघर्षों का सामना करना पड़ता है। शनि की महादशा, पनोती, साढ़ेसाती के दौरान भी व्यक्ति को विभिन्न प्रकार की समस्याओं से गुजरना पड़ता है। कर्म के अनुसार फल देने वाले शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए लोग शनिवार के दिन तरह-तरह के उपाय भी करते हैं। क्योंकि यदि शनि अशुभ प्रभाव देता है तो व्यक्ति को नौकरी और व्यवसाय में लगातार परेशानी का सामना करना पड़ता है। 

शनि दोष संकेत

यदि कुंडली में शनि की स्थिति अशुभ हो तो व्यक्ति हमेशा सोच-विचार में डूबा रहता है। ऐसे लोग खुद से बातें करते हैं. ऐसे लोग इच्छा होते हुए भी शुभ कार्यों में भाग नहीं ले पाते हैं। शनिदोष के कारण व्यक्ति क्रोधी रहता है। यहां तक ​​कि व्यक्ति के महत्वपूर्ण कार्यों में भी सब आ जाता है और उसकी बुद्धि भ्रष्ट हो जाती है। शनिदोष के कारण व्यक्ति के घर में कलह भी होती है। शनि दोष होने पर व्यक्ति की आंखें कमजोर होती हैं और व्यक्ति के शरीर में नकारात्मक विचार और आलस्य बना रहता है। 

 

शनिदोष दूर करने के सरल उपाय

ज्योतिष शास्त्र में शनिदोष को दूर करने के लिए कुछ सरल उपाय बताए गए हैं, जिनमें सबसे आसान है शनिवार का व्रत करना। अगर आपकी कुंडली में भी शनिदोष है तो शनिवार का व्रत रखें और हनुमानजी की पूजा करें। यह शनि के अशुभ प्रभाव को कम करता है।

शनिदेव की कृपा पाने के लिए शनिवार के दिन किसी जरूरतमंद व्यक्ति की मदद करें। शनि के अशुभ प्रभाव को कम करने के लिए कुत्ते और कौओं की भी सेवा करें। 

 

शनि दोष से मुक्ति के लिए नियमित रूप से हनुमान चालीसा का पाठ करें। साथ ही दूध में पानी और चीनी मिलाकर पीप के पेड़े को गर्म कर लें।