Scam: दीपिका से लेकर जैकलीन तक सब ले रहीं मनरेगा की मजदूरी, जानिए क्या है मामला !

भोपाल। क्या बॉलीवुड एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण ( Deepika Padukone ) और जैकलीन फर्नांडीज ( Jacqueline Fernandez ) समेत एक दर्जन एक्ट्रेस और मॉडल मध्यप्रदेश से भी सैलरी उठाती हैं। यह सुनकर आप हैरान रह जाएंगे कि यह अभिनेत्रियां मध्यप्रदेश में जॉब कार्ड बनवाकर हजारों रुपए कमा रही हैं। यह सही है कि इन अभिनेत्रियों ( bollywood actress ) के नाम पर मध्यप्रदेश के मनरेगा में बड़ा फर्जीवाड़ा उजागर हुआ है।

दरअसल, मनरेगा योजना ( mgnrega scame ) में नए तरीके का फर्जीवाड़ा उजागर हुआ है। खरगौन जिले के झिरन्या जनपद पिपरखेड़ा नाका पंचायत के सरपंच, सचिव और रोजगार सहायक की ओर से जॉब कार्ड पर पुरुष की तस्वीर की जगह बालीवुड की एक्ट्रेस की तस्वीरें लगा दी गई। इनमें दीपिका पादुकोण, जैकलिन फर्नांडिस समेत एक दर्जन से अधिक एक्ट्रेस और मॉडल के फोटो हितग्राहियों के नाम के साथ जोड़कर लाखों रुपए की राशि निकाल ली गई। एक जॉब कार्ड मोनू शिवशंकर के नाम से बना है, लेकिन उसमें फोटो दीपिका पादुकोण का फोटो लगा है, जबकि पद्म रूप सिंह के जॉब कार्ड में जैकलिन फर्नांडिस का फोटो लगाया गया है।

ऐसे उजागर हुआ मामला

जब मनरेगा के सही हकदारों ने ऑनलाइन मनरेगा साइट पर काम की राशि नहीं मिलने पर सर्चिंग की, तो उनके जॉब कार्ड फर्जी बने पाए गए, उनके नाम से फर्जी जॉब कार्ड पर बालीवुड एक्ट्रेस के फोटो लगाए गए, साथ ही राशि भी निकली गई।

सूत्रों के मुताबिक एक व्यक्ति के खाते से दीपिका पादुकोण का फोटो जाब कार्ड ( mgnrega job card ) पर लगा है, उसके खाते से तीस हजार रुपए निकाले गए। जबकि वह काम पर गया ही नहीं। यह क्रम कई महिने से चल रहा है। इसके अलावा जॉब कार्ड पर पुरुषों के नाम लिखे हैं, जबकि तस्वीरें फिल्मी अभिनेत्रियों और माडल के लगे हुए हैं। जैकलीन फर्नांडिस के भी फोटो लगे जाब कार्ड सामने आए हैं।

काम मशीनों का पैसा इंसान का

लोगों का कहना है मनरेगा में कोई काम नहीं मिला। सरपंच, सचिव, रोजगार सहायक के साथ ही ऊपर तक के लोग ऐसे ही भ्रष्टाचार में लिप्त हैं। मशीनों से काम करवाकर इस तरह के फर्जीवाड़े किेए जा रहे हैं। खरगौन जिले में यह मामला सामने आने के बाद जिला पंचायत सीईओ गौरव बेनल ने जांच के आदेश जारी कर दिए हैं। इसमें फर्जी जॉब कार्ड और किसने कितनी राशि निकाली इसकी जांच की जाएगी।

यह भी है खास

-एक कार्ड धारक का नाम मोनू दुबे है। इनके कार्ड पर दीपिका का फोटो इस्तेमाल किया गया। मोनू ने कहा कि दीपिका का फोटो लगाकर मेरे नाम पर 30 हजार रुपए निकाले गए।
-सोनू नामके एक अन्य लाभार्थी के जॉब कार्ड पर जैकलिन का फोटो लगा है। सोनू ने ग्राम पंचायत के रोजगार सहायक पर फर्जीवाड़े का आरोप लगाया है। मामला उजागर होने के बाद जिला पंचायत सीईओ गौरव बेनल ने कार्रवाई करने की बात कही है।

Check Also

9/11 के हमले के बाद डिप्रेशन में चले गए थे ‘बुर्ज खलीफा’ के सिंगर डीजे खुशी, उबरने के लिए पार्टियां करने लगे और 20 घंटे की ट्रेनिंग में डीजे बन गए

अपकमिंग फिल्म ‘लक्ष्मी बॉम्ब’ का सॉन्ग बुर्ज खलीफा इन दिनों ट्रेंड में हैं। अक्षय कुमार …