SBI: जून से लोन की EMI रोकने के लिए क्या करना होगा, बैंक अगस्त तक खुद बढ़ाएगा मोरेटोरियम?

कोरोनावायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) पर काबू पाने के लिए देशभर में लागू लॉकडाउन में इंडस्ट्री, टैक्सपेयर समेत आम आदमी के सामने आर्थिक संकट खड़ा कर दिया है. कैश की किल्लत के बीच अधिकांश लोगों ने लोन मोरेटोरियम स्कीम का फायदा उठाते हुए अपने होम लोन या आटो लोन की EMI मई तक रोक दी है. सरकार ने अब इस स्कीम को अगस्त तक बढ़ा दिया है. ऐसे में अब अधिकांश लोगों के मन में यह सवाल है कि क्या लोन मोरेटोरियम का लाभ लेने के लिए फिर से अप्लाई करना होगा या बैक/वित्तीय संस्थान खुद लोन मोरेटोरियम की अवधि बढ़ा देंगे. SBI के अधिकांश ग्राहकों ने ट्वीट के जरिए यह सवाल पूछा है.

SBI ने अपने ग्राहकों के सवालों के जवाब में बताया कि बैंक ने बयान में बताया कि वह सभी योग्य लोन ग्राहकों के लिए लोन मोरेटोरियम की अवधि बढ़ा दी गई है. इसके अलावा, बैंक सभी पात्र ग्राहकों से उनकी जून, जुलाई और अगस्त 2020 में आने वाली EMI पर स्टैंडिंग इंस्ट्रक्शन/ NACH मैंडेट को रोकने के लिए सहमति प्राप्त करने के लिए संपर्क किया है. ग्राहक को सिर्फ ‘YES’ लिखकर एक डेजिगनेटेड वर्जुल मोबाइल नंबर (VMN) पर SMS भेजना होगा. यह SMS बैंक की तरफ से EMI टालने के लिए मिले SMS के पांच दिन के भीतर करना है.

SBI loan moratorium

ट्वीट पर SBI ग्राहक का सवाल.

EMI रोकने के लिए ग्राहक की मंजूरी जरूरी

SBI के जवाब से यह स्पष्ट है कि लोन मोरेटोरियम बैंक स्वयं नहीं बढ़ाएगा. बल्कि, उसके लिए आपको अपनी मंजूरी देनी होगी. एसबीआई के मामले में उसने इसकी प्रक्रिया भी स्पष्ट कर दी है. यानी, सिर्फ एक एसएमएस का जवाब देकर ग्राहक अगस्त तक अपनी लोन की ईएमआई को रोक सकते हैं.

बता दें, रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने 22 मई को लॉकडाउन को देखते हुए लोन मोरेटोरियम की अवधि को 3 महीने और बढ़ाने का एलान किया था. यानी इसका मतलब यह हुआ कि अगर आपने होम लोन या ऑटो लोन लिया है तो आपको अपनी ईएमआई रोकने के लिए 3 महीने की और मोहलत मिल गई. पहले भी मार्च से मई तक यानी 3 महीने की मोहलत मिली थी.

Check Also

एक महीने में तीन गुना महंगा हुआ टमाटर

देश के लगभग तमाम बड़े शहरों में टमाटर की खुदरा कीमतें बढ़कर 60-70 रुपए प्रति …