Sawan 2020: 6 जुलाई से शुरू हो रहा है सावन का महीना, पहले सोमवार को बन रहा है विशेष योग

सावन के महीने में पड़ने वाले सोमवार का विशेष महत्व है. सावन के महीने का शिव भक्त पूरे साल इंतजार करते हैं. 6 जुलाई को सावन का पहला सोमवार है. सावन के महीने में भगवान शंकर की पूजा करने से विशेष लाभ मिलता है.

 

मनचाहे वर के लिए कन्याएं रखती हैं व्रत
सावन के सोमवार की महिमा शिवरात्रि के व्रत की तरह ही मानी गई है. मान्यता है कि जो कन्या सावन के सभी सोमवार का व्रत रखकर भगवान भोलेनाथ की पूजा अर्चना करती है उसे मनचाहा वर प्राप्त होता है.

 

काल सर्प दोष को कम करता है सोमवार का व्रत
कालसर्प दोष को ज्योतिष शास्त्र में एक अशुभ योग माना गया है. जिस व्यक्ति की जन्म कुंडली में काल सर्प दोष का निर्माण होता है वह जीवन पर परेशान रहता है. हर कार्य में बाधा आती है. मानसिक तनाव बना रहता है. धन की हानि होती है और लोगों का सहयोग प्राप्त नहीं होता है जिस कारण जीवन में कष्ट और संघर्ष की स्थिति बनी रहती है. सावन में पड़ने वाले प्रत्येक सोमवार को भगवान शिव का अभिषेक और पूजा करने से इस दोष की अशुभता कम होती है.

 

सावन में इस बार 4 नहीं 5 सोमवार हैं
इस बार का सावन का महीना विशेष है. सावन के महीने में इस बार 5 सोमवार पड़ रहे हैं. पहला 6 जुलाई, दूसरा 13 जुलाई, तीसरा, 20 जुलाई, चौथा 27 जुलाई और पांचवा सोमवार 3 अगस्त को पड़ रहा है.

 

पहले सोमवार को बन रहा है विशेष योग
पंचांग के अनुसार सावन के पहले सोमवार को विशेष योग बन रहे हैं. सोमवार को श्रावण मास का आरंभ हो रहा है. इस दिन तिथि प्रतिपदा है और वैधृति योग का निर्माण हो रहा है. इस दिन नक्षत्र उत्तराषाढ़ा है. सूर्य मिथुन राशि और चंद्रमा मकर राशि में रहेंगे.

Check Also

टिप्स: वास्तु दोष दूर करने के लिए घर में कौन-सी धातु का पिरामिड रखना चाहिए?

वास्तु शास्त्र में घर में सकारात्मकता बढ़ाने और नकारात्मकता दूर करने के नियम बताए गए …