Samudra Shastra: आंखों का रंग बताता है व्‍यक्ति का स्‍वभाव, जानिए कैसी आंखों वाले होते हैं सबसे Lucky

नई दिल्‍ली: वैसे तो दुनिया के हर इंसान को भगवान ने एक जैसे अंग दिए हैं, लेकिन उनकी बनावट, रंग आदि में अंतर भी कर दिया है. इसी कारण हर इंसान दिखने, सोचने-समझने, परफॉर्म करने आदि में अलग होता है. इसलिए कहा जाता है कि हर व्‍यक्ति अपने आप में अलग और खास होता है. समुद्र शास्‍त्र (Samudra Shastra) में व्‍यक्ति के विभिन्‍न अंगों की बनावट के आधार पर उसके स्‍वभाव, पर्सनालिटी के बारे में बताया गया है. आज हम जानते हैं कि आंख (Eye) की पुतली का अलग-अलग रंग (Color) क्‍या बताता है.

आंख के रंग से पता चलता है स्‍वभाव 

भूरी आंखें: आमतौर पर इन लोगों को काफी चालाक माना जाता है लेकिन इसके अलावा भी इनमें कई खासियतें होती हैं. ये लोग काफी रचनात्‍मक और मन से काफी मजबूत होते हैं. ये लोग कई बार सख्‍त निर्णय भी कर लेते हैं. इन लोगों में एक खास तरह का आकर्षण होता है, इसलिए हर जगह आसानी से सेंटर ऑफ अट्रैक्‍शन बन जाते हैं.

 

ग्रे कलर की आंखें: ऐसे लोग किसी की भी बातों में आसानी से आ जाते हैं और मामले की असलियत पता करने की कोशिश नहीं करते हैं. ये लोग टीचिंग जैसे क्षेत्र में अच्‍छा काम करते हैं.

 

ग्रीन कलर की पुतली वाले लोग: ग्रीन कलर की पुतली वाले लोग हमारे देश में कम ही मिलते हैं. ये लोग काफी सामाजिक होते हैं. इन्‍हें लीडरशिप करना पसंद होता है और आसानी से लोगों का दिल भी जीत लेते हैं. ये लोग किसी को अपने से ज्‍यादा सफल होते नहीं देख पाते हैं.

 

नीली आंखें: आमतौर पर ऐसे लोगों को बहुत खूबसूरत माना जाता है और इसकी वजह यह भी है कि यह खुद को लोगों के सामने बहुत अच्‍छे से पेश करते हैं. ये लोग बहुत भाग्‍यशाली भी होते हैं और जिंदगी में पैसा-प्रसिद्धि, बहुत अच्‍छे रिश्‍ते आदि सब कुछ पाते हैं. ये लोग दूसरों की मदद करने के मामले में भी बहुत अच्‍छे होते हैं.

कत्‍थई आंखें: ब्राउन-कत्‍थई जैसे रंग की आंखों वाले लोग निर्णय जल्‍दी लेते हैं और नुकसान के बावजूद उस पर डटे रहते हैं. ये लोग बहुत जल्‍दी दूसरों के बारे में राय बनाते हैं. बहुत मेहनती होते हैं और अपने स्‍वाभिमान से कभी समझौता नहीं करते हैं.

काली आंखें: आमतौर पर ज्‍यादातर लोगों की आंखें काली होती हैं. ये लोग मेहनती और ईमानदार होते हैं. ये लोग वादे के पक्‍के और अपनी जिम्‍मेदारियों को निभाने वाले होते हैं. साथ ही भरोसेमंद पार्टनर होते हैं.

Check Also

अश्विन मास इंदिरा एकादशी कब है, जानिए शुभ मुहूर्त और पूजा विधि

हमारे पौराणिक शास्त्रों में श्राद्ध पक्ष में आने वाली इंदिरा एकादशी का बहुत अधिक महत्व …